साहब किसानों की छोड़िए हमारा तक फोन नहीं उठाता पटवारी:कलेक्टर की बैठक में सरपंचों ने की शिकायत, कार्रवाई के निर्देश

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरपंच सचिव की बैठक लेते दुर्ग कलेक्टर। - Dainik Bhaskar
सरपंच सचिव की बैठक लेते दुर्ग कलेक्टर।

दुर्ग कलेक्टर डॉ. एसएन भुरे धमधा ब्लॉक में सरपंच सचिव की बैठक लेने गए थे। वहां सरपंच, सचिव अपना दुखड़ा रोने लगे। उन्होंने कहा कि आप शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन कराने के निर्देश दे रहे हैं, लेकिन यहां पटवारी किसी की नहीं सुनता है। किसानों का तो छोड़िये पटवारी सरपंच और सचिव का फोन नहीं उठाता है। यह सुनकर कलेक्टर काफी गुस्से में आ गए। उन्होंने एसडीएम को पटवारी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

बैठक में उपस्थित सरपंच व सचिव
बैठक में उपस्थित सरपंच व सचिव

बैठक में कलेक्टर ने सभी सरपंचों और सचिवों से शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी मांगी। उन्होंने स्थानीय शासकीय अमले की नियमित उपस्थिति की जानकारी भी मांगी। इस पर कुछ सरपंचों ने पटवारी के नियत कार्यालय में आने की बात कही। जब साल्हेखुर्द के सरपंच से पूछा गया तो वह पटवारी विनय शर्मा की शिकायत लेकर खड़ा हो गया। उसने बताया कि उनके यहां का पटवारी मनमाने तरीके से काम करता है। जब मन किया तब कार्यालय आता है। इससे किसान परेशान हैं। सरपंच से कहा गया कि किसान पटवारी को फोन करके क्यों नहीं बुलाते हो। इस पर सरपंच ने कहा साहब किसानों को तो छोड़ दीजिए जब पटवारी मेरा फोन नहीं उठाता। इस पर कलेक्टर ने नाराजगी जताई। उन्होंने तुरंत एसडीएम बृजेश क्षत्रिय को पटवारी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिये।

कलेक्टर ने सभी अधिकारी कर्मचारियों को दिए निर्देश

बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जनसेवाओं से जुड़े हुए कार्यों में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्कूलों, आंगनबाड़ियों के बेहतर क्रियान्वन को देखने का दायित्व सरपंच सचिव का है। किसी भी तरह की दिक्कत आती है तो ब्लाक लेवल पर इसे अवगत कराएं।

खबरें और भी हैं...