जेल गया, फिर भी नहीं सुधरा:आते ही बनाया चोरी का प्लान और साथी के साथ मिलकर उड़ाए लाखों के गहने और केश; गिरफ्तार

भिलाईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चोरी के आरोपी पुलिस की गिरफ्त में - Dainik Bhaskar
चोरी के आरोपी पुलिस की गिरफ्त में

दुर्ग पुलिस ने सूने मकान में चोरी के दो आरोपियों को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों में से एक खुर्सीपार थाने का निगरानी बदमाश है। जेल से छूटने के बाद उसने अपने साथी के साथ सूने मकानों की रेकी कर वहां चोरी करने का प्लान बनाया। इसके बाद दोनों ने सूरज कुमार चौधरी के घर में चोरी की घटना को अंजाम दिया।

नगर पुलिस अधीक्षक भिलाई विश्वास चंद्राकर ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि तेलहा नाला खुर्सीपार निवासी सूरज कुमार चौधरी के घर में 23 मई की रात किसी ने ताला तोड़कर चोरी कर ली थी। सूरज देर रात घर में ताला लगाकर दुर्ग रेलवे स्टेशन गया था। जब वह स्टेशन से रात 2.30 बजे घर आया तो देखा कि घर के सामने का दरवाजा खुला हुआ था। अंदर जाकर देखा तो आलमारी खुला हुआ था। अंदर का सामान सभी जगह बिखरा हुआ था। आलमारी को चेक करने पर पता चला कि उसमें रखे सोने का मांग टीका 1 नग, चेन 1 नग, नाक की नथनी 1 नग, सोने की अंगूठी 3 नग, चांदी का सिक्का 15 नग, चांदी का पायल 1 जोड़ा, बच्चे का चांदी का चुड़ा 4 नग सहित 12 हजार रुपए नगद चोरी हो गए थे।

खर्सीपार पुलिस ने मामला दर्ज कर पुराने चोर एवं संदेहियो से लगातार पूछताछ करने में जुट गई। इसी दौरान मुखबीर से सूचना मिली कि खुर्सीपार का निगरानी बदमाश डिल्ला जेल से छूटने के बाद उस रात उसी क्षेत्र में घूमता हुआ दिखा है। पुलिस आजाद देवार उर्फ डिल्ला को पकड़ कर थाना लाई और उससे पूछताछ शुरू की। पूछताछ करने पर उसने अपने साथी शेख साहील के साथ चोरी करना स्वीकार किया। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से सोने की चेन, अंगूठी, बरामद कर लिया है। वहीं उसने बताया कि नगदी रकम 12 हजार रुपये उसने खर्च कर दिया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को न्यायिक रिमांड में भेज दिया है।