अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस:नशा निवारण दिवस के दिन विद्यार्थियों ने नशे से दूर रहने की ली शपथ

नंदिनी अहिवाराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डीएवी इस्पात पब्लिक स्कूल नंदिनी में अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस मनाया गया। प्राचार्य डॉ. बीपी साहू ने नशीले पदार्थों के खतरों और दुष्परिणाम के बारे में जानकारी दी। शिक्षिका रानू खंडूजा ने इस पर पॉवर पॉइंट प्रजेंटेशन दिया। इसके माध्यम से नशापान से मानसिक असंतुलन की बनती स्थिति को बताया गया। नशापान से शारीरिक, मानसिक गंभीर बीमारियां होती हैं। इससे सामाजिक प्रतिष्ठा कम होती है तथा समाज में प्रायः उपेक्षा मिलती है।

रमेश प्रसाद मिश्रा ने कहा कि नशापान से पारिवारिक सुख और समृद्धि का अंत होता है, जिससे जीवन में भटकाव की स्थिति बनती है। बारहवीं की छात्रा अहि तिवारी ने सभी विद्यार्थियों को संकल्प दिलाया कि हम किसी भी प्रकार के मादक द्रव्यों एवं पदार्थों का सेवन नही करेंगे। विद्यार्थियों ने नशा कर अपना भविष्य खराब नहीं करने की बात कही। इससे समाज में बुराई और अपराध बढ़ता है।

खबरें और भी हैं...