उतई प्रभारी को लेकर विवाद:उतई सीएचसी के प्रभारी बंजारे को हटाया कहा- बेहतर काम किया फिर भी कार्रवाई

भिलाई9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र उतई के प्रभारी रहे 30 साल के अनुभवी डॉ. एनएल बंजारे की जगह 12 साल के अनुभवी डॉ. पुन्ना लाल भगत को प्रभारी बनाए जाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। निकुम बीएमओ डॉ. देवेंद्र बेलचंदन के अनुसार अस्पताल में साफ-सफाई नहीं रखने, डॉक्टर व स्टाफ को मॉनिटर नहीं कर पाने और बार-बार जनप्रतिनिधियों की शिकायत आने के कारण उतई का प्रभारी बदला गया।

जबकि डॉ. एनएल बंजारे ने बताया कि उतई में निर्माण कार्य चल रहा है। लिहाजा बहुत सफाई रख पाना संभव नहीं हो पाता। उनसे किसी जनप्रतिनिधि ने किसी भी डॉक्टर या स्टाफ की शिकायत नहीं की है। बतौर इंचार्ज उन्होंने अपनी टीम का बेहतर नेतृत्व किया है। उनकी कर्मठता के कारण उतई अस्पताल की ओपीडी, डिलीवरी, नसबंदी, टीबी रोकथाम, सामान्य सर्जरी के आंकड़े ब्लॉक की प्रमुख सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निकुम से भी बेहतर है। इसके बावजूद ये कार्रवाई की गई है। बहरहाल इस मामले में विवाद गहराता जा रहा है। रिपोर्ट को पक्षपातपूर्ण बताया गया।

बदलाव की यह वजह बताई जा रही

1- अपने डॉक्टर को देने की मांग की : डॉ. एनएल बंजारे ने एक साल से लगातार नाइट में वीआईपी ड्यूटी कर रहे अपने डॉ. देवाज्ञ चंद्राकर को रिलीव करने की मांग की। इसके लिए उन्होंने कई बार पूर्व और वर्तमान सीएमएचओ को पत्र लिखा। उनको प्रभार से हटाने की यह वजह भी बताई जा रही।

2- बीएमओ की पक्षपात-पूर्ण रिपोर्ट : निकुम ब्लॉक के बीएमओ डॉ. देवेंद्र बेलचंदन हैं। सीएचसी निकुम में ही उनका अपना कार्यालय है। वहां का प्रदर्शन उतई से अच्छा नहीं है। इसे लेकर विभागीय स्तर पर रस्सा-कसी चल रही है। इसी वजह बीएमओ द्वारा सीएमएचओ को कोई रिपोर्ट देना बताया गया।

सफाई नहीं, शिकायत भी, इसलिए हटाया गया
डॉ. बंजारे अस्पताल की साफ-सुथरा नहीं रख रहे थे। डॉक्टर और स्टाफ पर उनका अंकुश नहीं था। जनप्रतिनिधियों ने कई बार शिकायत की। इसलिए हटाया गया।
डॉ. देवेंद्र बेलचंदन, बीएमओ निकुम, दुर्ग

कंस्ट्रक्शन जारी, मुझे कोई शिकायत नहीं मिली
उतई अस्पताल में निर्माण कार्य चल रहा है। ऐसे में बहुत सफाई रखना संभव नहीं है। हमारा प्रदर्शन ब्लाक के दूसरे अस्पताल से बहुत अच्छा रहा है। यह डॉक्टरों और स्टॉफ की कर्मठता का प्रमाण है।
डॉ. एनएल बंजारे, पूर्व प्रभारी, उतई

खबरें और भी हैं...