प्रक्रिया शुरू:बीएसपी में प्रतिनिधि यूनियन के लिए 30 जुलाई को होगा मतदान, आचार संहिता हुई लागू; प्लांट के अंदर प्रचार-प्रसार पर रहेगी रोक

भिलाईएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बीएसपी में प्रतिनिधि यूनियन के  लिए 30 जुलाई को मतदान होगा। - Dainik Bhaskar
बीएसपी में प्रतिनिधि यूनियन के  लिए 30 जुलाई को मतदान होगा।

बीएसपी में प्रतिनिधि यूनियन के लिए 30 जुलाई को मतदान होगा। उसी दिन देर रात तक नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे। इस घोषणा के साथ ही उप केंद्रीय श्रमायुक्त आरके पुरोहित ने बीएसपी में आचार संहिता लागू कर दिया है। अब यूनियन नेता 23 जुलाई से 29 जुलाई तक ही प्रचार कर सकेंगे। बुधवार को निर्वाचन अधिकारी पुरोहित ने एचआरडी सभागार में सभी 10 यूनियन प्रतिनिधियों की बैठक बुलाई थी। बैठक करीब एक घंटे विलंब से दोपहर दो बजे शुरू हुई। जिसमें निर्वाचन अधिकारी ने स्पष्ट किया कि एक जून को जो कर्मचारी पे रोल पर हैं वे ही चुनाव में मतदान कर सकेंगे। इस पर एक यूनियन ने आपत्ति जताई।

उसके प्रतिनिधि का कहना था कि जब मतदान जुलाई महीने में कराया जा रहा है तो 1 जुलाई को जो कर्मी पे रोल पर होंगे, उन्हें भी मतदान में शामिल होने का अवसर दिया जाए। इस पर निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि प्रावधानों के मुताबिक चुनाव की प्रक्रिया जून महीने में शुरू हुई इसलिए उस महीने की पहली तारीख को जो कर्मचारी पे रोल पर रहते हैं, वे चुनाव में भाग लेने की पात्रता रखते हैं। चुनाव में नियमित कर्मियों के साथ-साथ ट्रेनीज भी मतदान कर सकेंगे। मतदाता सूची 30 जून को उपलब्ध करा दी जाएगी। आपत्ति के लिए 6 जुलाई तक का समय दिया गया। मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 15 जुलाई को होगा। इसके साथ ही प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

वोटिंग के दिन ही रात 8 बजे से होगी मतगणना

  • 18 बूथ, 113418 मतदाता, प्रत्येक बूथ में 750 वोटर तय किए गए।
  • 16 से 18 जुलाई तक नामांकन फार्म रायपुर में भरे जाएंगे, 19 जुलाई को नाम वापसी का अंतिम दिन तय किया गया है।
  • 20 जुलाई को चुनाव चिन्ह का आवंटन, 23 से 29 जुलाई तक प्रचार। इसके बाद मतदान होगा।
  • 30 जुलाई को सुबह 6 से शाम 4 बजे तक मतदान, रात 8 बजे से मतगणना। मतगणना के साथ ही विजयी प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी। प्रक्रिया शुरू होने के साथ प्रचार-प्रसार भी शुरू कर दिया गया है। जनसंपर्क जारी है। दावेदार कर्मियों से मुलाकात कर रहे।

नाइट शिफ्ट वालों को प्राथमिकता, नए निर्देश
मतदान के दिन नाइट शिफ्ट वालों को वोट डालने में प्राथमिकता दी जाएगी। क्योंकि वे सुबह 6 बजे ड्यूटी से निकलने के बाद सीधे मतदान केंद्र पहुंचेंगे। ऐसे में उन्हें मतदान के लिए कतार में खड़ा करवाना ठीक नहीं होगा। लिहाजा नाइट शिफ्ट करने वाले कर्मी नाइट शिफ्ट की जानकारी देकर सीधे वोट डाल सकेंगे। बीएसपी कर्मचारी जो बाहर ड्यूटी कर रहे हैं वे पोस्टल बैलेट से मतदान कर सकेंगे। निर्वाचन अधिकारी संबंधित कर्मचारी को ईमेल करेंगे, कर्मचारी ईमेल से ही थंब इंप्रेशन भेजकर मतदान प्रक्रिया में शामिल होंगे। इसके निर्देश जारी हुए हैं। यूनियनें भी तैयारी में जुटी हुई है।

फुल एनजेसीएस की बैठक 19 जुलाई को फिर से होगी
इधर सेल प्रबंधन ने वेज रिवीजन के लंबित मुद्दों पर चर्चा करने के लिए 19 जुलाई को फुल एनजेसीएस की बैठक बुलाई है। वेज रिवीजन अक्टूबर में हुआ लेकिन पे स्केल सहित एचआरए नाइट शिफ्ट अलाउंस जैसे कई मुद्दे अब तक लंबित हैं। पे स्केल पर एनजेसीएस की सब कमेटी में सहमति बन गई लेकिन उसे अब तक लागू नहीं किया गया है। वेज रिवीजन को लेकर आयोजित होने वाली बैठक को लेकर यूनियनों ने रणनीति बनाना शुरू कर दिया है। आगामी दिनों में इसे लेकर यूनियनों की बैठक भी होनी है। तारीख जरूर तय नहीं हो पाई है। इसे लेकर भी कर्मियों में चर्चा है।

खबरें और भी हैं...