सेवानिवृत्त प्राचार्य ने कहा:सफलता का केवल एक ही मंत्र है कड़ी मेहनत

पुरूरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शासकीय हायर सेकेंडरी स्कूल पुरूर के प्राचार्य मंतराम राजपुरिया के सेवानिवृत होने पर शाला विकास समिति एवं विद्यालय परिवार ने विदाई व सम्मान समारोह का आयोजन किया। अतिथि सरपंच सुकीर्ति यादव, प्राचार्य बीआर ठाकुर, एमके सिन्हा, शाला प्रबंधन समिति के अध्यक्ष अरूण प्रजापति थे। प्रभारी प्राचार्य विद्याभूषण साहू ने कहा कि राजपुरिया अनुशासन प्रिय थे। उन्होंने विद्यालय में पौधरोपण, सरस्वती मंदिर का निर्माण, स्वामी विवेकानंद की मूर्ति स्थापना करवाई। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पुरूर में अपने पैसे से अतिरिक्त कक्ष का निर्माण करवाया।

मंतराम राजपुरिया ने छात्रों से कहा कि सफलता का एक ही मंत्र कड़ी मेहनत है। उन्होंने छात्र छात्राओं को प्रवीण्य सूची में आने पर अपनी ओर से दस-दस हजार रुपए देने की घोषणा की। वीणा गजेन्द्र ने प्रशस्ति पत्र को पढ़ा। विद्यालय परिवार ने सम्मान स्वरूप श्रीफल, शाल प्रतीक चिन्ह, कलम, डायरी भेंट की।

शिक्षक टीआर कुर्रे, ग्राम पटेल कीर्तन माला, आनंदराम सोनबरसा, चिंताराम साहू, बिसाहूराम उइके, नारद ध्रुव, गौकरण शांडिल्य किशोर राजपुरिया, नरेश मरकाम किशोर राजपुरिया, रामेश्वर, रासेवक साहू, भागबली यादव, किशुनराम साहू, भुनेश्वर शांडिल्य, वचनलाल ठाकुर, मोहनलाल साहू, धनंजय राजपुरिया, धनेन्द्री गंगबीर, जानेश साहू सहित अन्य मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...