धर्म-आस्था:कारीगर, राजमिस्त्री, बढ़ई व पेंटर ने देव शिल्पी भगवान विश्वकर्मा की पूजा की

तार्रीभरदा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शनिवार को ठेकवाडीह सहित विभिन्न स्थानों पर विश्वकर्मा जयंती मनाई गई। देव शिल्पी भगवान विश्वकर्मा के जन्म दिन पर शिल्पकार, कारीगर, राजमिस्त्री, बढई,पेंटर ,मशीनरी का काम करने वाले लोगों ने पूजा की। जिला भाजपा युवा मोर्चा अध्यक्ष आदित्य पिपरे ने कहा कि भगवान विश्व के देवता है। सभी लोग मिलकर पूजा करते है। गांव- गांव में आज के दिन भगवान विश्वकर्मा की पूजा में शामिल होकर अच्छे दिन की शुरुआत करते है। समिति को एक हजार रुपए नकद दिया। अध्यक्षता कर रहे युवा मोर्चा के महामंत्री अजेन्द्र साहू ने कहा कि विश्वकर्मा भगवान सृष्टि के रचयिता है।

समिति को एक हजार रुपए दिए। भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ धमतरी गजेंद्र साहू ने कहा कि भगवान विश्वकर्मा युग के निर्माता हैं। ।जिसके कारण शिल्पकार इनकी पूजा करते है। समिति को एक हजार रुपए दिए। तुलेश साहू ने कहा कि नारी की शक्ति अपार है। ऐसे में विश्वकर्मा भगवान सभी के मनोकामना को पूर्ण करते है। मां कर्मा सेवा संस्थान धमतरी रामकुमार साहू, शिक्षक नरेन्द्र कुमार साहू, परमानंद साहू, ग्राम पटेल शिवलाल साहू डा महेन्द्र कुमार साहू ने भी संबोधित किया।

ठेकवाडीह में राजमिस्त्री, पेंटर व बढ़ई संघ के द्वारा स्व.दीनू राम साहू, स्व.रामप्रसाद भंडारी व स्व. सोमनाथ ठाकुर के पुत्र रुद्रनारायण,चंदन भंडारी, हरीश ठाकुर का सम्मान किया। ग्रामीणों के मनोरंजन के लिए समितियों के द्वारा छत्तीसगढ़ी नाच पार्टी गोपी किशन चरोटा अंगारी का कार्यक्रम रखा गया। भगवान विश्वकर्मा के मूर्ति को विसर्जन के पूर्व गांव के गलियों में भ्रमण कराया गया । कार्यक्रम में संरक्षक कन्हैयाराम सुपेत, दुलार गंजीर, सनक ठाकुर, भावसिंह ठाकुर, राकेश साहू, केशव सुपेत, ईश्वर साहू, पूनाराम, लोकनाथ साहू, देवलाल विश्वकर्मा, सोनसाय भंडारी, मूलचंद साहू, यशवंत साहू, मोरध्वज यादव, तामेश्वर यादव, बृजराज साहू उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...