GPM में फिर हाथी ने ली जान:2 दिन में दूसरी मौत, वन विभाग ने खाली कराया गांव;MP से पहुंचा है 3 हाथियों का दल

​​​​​​​पेंड्रा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हाथी ने कुचलकर मार दिया। - Dainik Bhaskar
हाथी ने कुचलकर मार दिया।

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) में हाथियों का उत्पात जारी है। हाथियों ने शनिवार देर रात फिर एक ग्रामीण को कुचलकर मार डाला। दो दिन में यह दूसरी मौत है। इसके बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को अलर्ट किया गया है। जिनके मकान कच्चे बने हैं, उन्हें वन विभाग की टीम ने अपने वाहनों से दूसरी जगह शिफ्ट कराया है। बताया जा रहा है कि हाथियों के दल ने मध्य प्रदेश से जिले में प्रवेश किया है।

हाथी की सूचना के बाद मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम।
हाथी की सूचना के बाद मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम।

जानकारी के मुताबिक, मरवाही रेंज के कटारा गांव में तीन हाथियों के दल ने डेरा डाला हुआ है। शनिवार देर रात इन्हीं हाथियों ने स्थानीय ग्रामीण रामधुन गोंड (45) को कुचल दिया। जिससे रामधुन की मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची, लेकिन हाथियों को भगाने में नाकामयाब रही। इसके बाद गांव में मुनादी करा कर लोगों को अलर्ट कराया गया। साथ ही सभी को निकाल कर पक्के भवन में शिफ्ट किया गया है।

कच्चे मकानों वाले ग्रामीणों को गांव खाली करने के लिए मुनादी कराई गई।
कच्चे मकानों वाले ग्रामीणों को गांव खाली करने के लिए मुनादी कराई गई।

अनूपपुर से पहुंचा है हाथियों का दल
मरवाही रेंज में अनूपपुर जिले से तीन हाथियों का दल अलग-अलग गांवों के पास डेरा डाले हुए है। बताया जा रहा है कि हाथी लौट गए थे, लेकिन दो दिन से फिर गांव में पहुंचे हुए हैं। एक दिन पहले भी हाथी ने मालाडांड़ गांव में दो लोगों को कुचल दिया था। इसमें एक की मौत हो गई थी, जबकि दूसरा घयल है। इसके बाद लोगों में वन को लेकर आक्रोश बढ़ गया है। लोगों का कहना है कि न तो सुरक्षा के उपाय किए जा रहे हैं, न ही ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है।