आम लोग परेशान:कब्जे हटाने मात्र बैठक और नोटिस का चल रहा सिलसिला

चांपा14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

रेलवे स्टेशन के सामने सड़क पर प्रतिदिन घंटों जाम लगता है। इससे आम लोग परेशान हैं । इतनी तेज धूप में उन्हें जाम के कारण खड़े रहना पड़ता है। काफी मशक्कत के बाद जाम हटाया जाता है,लेकिन इसके स्थायी समाधान के लिए पहल नहीं की जा रही है। यातायात व्यवस्था दुरूस्त करने केवल बैठक और नोटिस का सिलसिला चल रहा है। उस पर अमल नहीं किया जा रहा है। अवैध अतिक्रमण को हटाने रेल प्रशासन और नगरपालिका केवल नोटिस थमा देती है, लेकिन कार्रवाई नहीं करती है ।

नगरपालिका ने फिर दूसरी बार 29 अप्रैल को रेलवे स्टेशन के रोड किनारे अवैध रूप से फल दुकान व ठेला लगाने वालों को नोटिस देकर खाली करने को कहा है। नोटिस में स्पष्ट लिखा है कि अवैध रूप से कब्जा के कारण आवागमन, पार्किंग व्यवस्था बाधित हो रही है व दुर्घटना की संभावना भी बनी रहती है। उन दुकानदारों को नगरपालिका के आश्रय स्थल पर अस्थायी रूप से स्थानांतरित करने को कहा गया है, अन्यथा नगरपालिका द्वारा हटाया जाएगा।

नोटिस का नहीं हो रहा असर
नगरपालिका द्वारा दिए गए नोटिस में स्पष्ट किया गया है कि वे स्वयं अटा लें अन्यथा पालिका हटाएगी और जो नुकसान होगा इसके जिम्मेदार अवैध कब्जाधारी खुद होंगें । लेकिन नगरपालिका के नोटिस को वे गम्भीरता से नहीं ले रहे हैं। कोई भी अवैध रूप से फल व ठेला लगाने वाले अपना दुकान स्थानांतरित नही किया है। जिसके कारण रेलवे स्टेशन के सामने की यातायात व्यवस्था दुरुस्त नही हो पा रही है ।

शहर की यातायात व्यवस्था दुरूस्त करने के लिए पहले हुई थी बैठक
पिछले दिनों चांपा थाने में शहर की यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने राजस्व अफसरों ,पुलिस अफसरों , स्थानीय प्रशासन व व्यापारियों की बैठक ली गई थी जिसमे सबकी सहमति से पूरे शहर की यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने का निर्णय लिया गया। इन बैठकों का क्या असर होता है । बैठक में लिए गए निर्णयों पर कैसे अमल होगा यह तय नहीं है।

ट्रैफिक व्यवस्था ठीक करने के होंगे प्रयास

रेल्वे परिक्षेत्र में रेल प्रशासन ,राजस्व विभाग एंव नगरपालिका द्वारा संयुक्त रूप से यातायात व्यवस्था बनाने के लिए शीघ्र पहल की जाएगी इसके लिए बैठक में सहमति बनी है। इसके अलावा शहर में भी यातायात व्यवस्था दुरूस्त करने पहल होगी।
जय थवाईत अध्यक्ष नगरपालिका परिषद चांपा

खबरें और भी हैं...