BEO के रिश्वत मांगने का ऑडियो वायरल:बोले-बिल पास कराने के लिए ट्रेजरी में तो देना पड़ता है, तीन लोगों के 60 हजार लगेंगे

जांजगीर-चांपा3 महीने पहले

छत्तीसगढ के जांजगीर-चांपा जिले में BEO के रिश्वत मांगने का ऑडियो वायरल हो रहा है। वायरल ऑडियो के मुताबिक ब्लॉक शिक्षा अधिकारी एक रिटायर्ड टीचर से उसका बिल पास करने के बदले पैसे मांग रहे हैं। ऑडियो में BEO कह रहे हैं कि तीन लोगों का काम है। उसके लिए 60 हजार रुपए लग जाएंगे। ट्रेजरी में तो वैसे ही एक प्रतिशत के हिसाब से पैसा देना ही पड़ता है।

जैजैपुर विकासखंड के अलग-अलग स्कूलों में पदस्थ 3 टीचर पिछले दिनों रिटायर हुए हैं। रिटायर के बाद इन टीचरों को जीपीएफ सहित अन्य कई प्रकार की राशियां मिलती हैं। मगर इसके लिए प्रक्रिया है। जिसके तहत बीईओ को पूरा बिल बनाकर ट्रेजरी को देना पड़ता है। जिसके बाद टीचरों का भुगतान किया जाता है। ऐसे ही एक रिटायर्ड टीचर नवधा कश्यप पिछले कई दिनों से जैजैपुर विकासखंड के BEO विजय सिदार से बात कर रहे थे। लेकिन उनका काम नहीं हो परा था।

वायरल ऑडियो में ये कहा...

पिछले कुछ दिन पहले जब फिर से रिटायर्ड टीचर नवधा कश्यप ने बीईओ से बात की थी। उसी समय का यह ऑडियो बताया जा रहा है। ऑडियो में विजय सिदार कह रहे हैं आपका सब चढ़ गया ना, जितेश का कार्रवाई अब कराएंगे। इस पर नवधा कश्यप पूछते हैं कि क्या हमें समयमान वेतनमान नहीं मिलेगा क्या, अंतर की राशि नहीं मिलेगी क्या। ये तो अभी बाकी है। तभी बईओ कहते हैं कि वो वाला काम आकर जल्दी करा लेते ना सर। आपके लिए मैंने खुद पैसे दिए हैं।

आगे नवधा कहते हैं कि आखिर कितना लगेगा बत तो दीजिए। इस पर बीईओ कहते हैं कि नहीं फोन पर नहीं बताऊंगा। आकर मिलिए आमने सामने बात करेंगे। बीईओ कहते हैं कि पैसे जल्दी मिल जाएगा तो काम हो जाएगा, नहीं तो दिक्कत होगी। इसके बाद फिर से रिटायर्ड शिक्षक कहते हैं कि आखिर बता तो दीजिए कि कितना लगेगा। तब जाकर बीईओ जवाब देते हैं कि मैंने आप तीन लोगों के लिए 60 गिना है। मतलब एक बंदे कि हिसाब से 20 हजार रुपए। कुल मिलाकर 60 हजार रुपए लगेंगे।

बीईओ ये भी कहते हैं कि बिल पास करने के बदले ट्रेजरी में तो एक प्रतिशत देना ही पड़ता है। मैंने आपका पैसे जमा करवा दिया है। आप चाहो तो वहां जाकर पूछ लो। बाबुओं से पूछ लो इस पर रिटायर्ड टीचर उन्हें मना कर देते हैं कि हम इतने पैसे नहीं दे पाएंगे। हम एक परसेंट नहीं दे पाएंगे। अब पूरे घटनाक्रम का ऑडियो वायरल है। हालांकि भास्कर इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

DEO बोले-जांच करवाएंगे

इस मामले में हमने जिला शिक्षा अधिकारी बीएल खरे से भी बात की, तब उन्होंने कहा कि हम इस ऑडियो की जांच करवाएंगे। वहीं बीईओ विजय सिदार का कहना है कि ये ऑडियो फर्जी है।