छत्तीसगढ़ में महिला से निर्भया जैसी दरिंदगी:दुष्कर्म कर गुप्तांग में डाल दिया तवे का मूठ; छाती-गले की हड्‌डी तोड़ी, फेफड़े फटने से मौत

​​​​​​​जांजगीर-चांपाएक महीने पहले

छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा में एक महिला से निर्भया जैसी दरिंदगी की गई। 55 साल की अधेड़ महिला से पहले दुष्कर्म किया गया। फिर उसके गुप्तांग में तवे का मूठ डाल दिया। उसके गले और छाती को पैरों से रौंद डाला, जिसके कारण महिला की हडि्डयां टूट गईं, फेफड़े फट गए और महिला की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

अकलतरा थाना क्षेत्र में रविवार को महिला का शव उसके घर में अर्धनग्न हालत में मिला था। वार्ड-2 निवासी 55 साल की महिला के पति की करीब 3 साल पहले मौत हो गई थी। उसका कोई बच्चा भी नहीं था। महिला घर में अकेले ही रहती थी और दूसरों के घरों में काम करती थी। रविवार सुबह जब काफी देर तक महिला घर से बाहर नहीं निकली तो पड़ोसी उसे देखने के लिए पहुंचे। वहां अंदर कमरे के दरवाजे के पास ही महिला का अर्धनग्न शव पड़ा था।

पोस्टमार्टम में दुष्कर्म और मौत के कारणों का पता चला।

महिला का अर्धनग्न शव उसके घर में मिला था।
महिला का अर्धनग्न शव उसके घर में मिला था।

अकलतरा के एक ढाबे से पकड़ा गया बदमाश
दुष्कर्म और जघन्य हत्या को देखते हुए आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की विशेष टीम बनाई। जांच के दौरान पता चला कि निगरानी बदमाश सूरज भोई को घटना वाले दिन क्षेत्र में देखा गया था। इस पर पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की। कुछ घंटों बाद ही आरोपी को अकलतरा के एक ढाबे से हिरासत में ले लिया। पहले ताे वह मना करता रहा, लेकिन सख्ती से पूछताछ में उसने महिला से दुष्कर्म और हत्या करने की बात कबूल कर ली।

महिला को अकेला देख घर में घुसा आरोपी
आरोपी सूरज ने पुलिस को बताया कि 2 जुलाई की रात वह पोड़ीभांठा में घूम रहा था। तभी उसे मकान का दरवाजा खुला दिखाई दिया। वहां एक महिला अकेले सोई हुई थी। यह देखकर वह अंदर घुस गया और डरा-धमकाकर दुष्कर्म किया। वह दोबारा भी दुष्कर्म करना चाहता था, लेकिन तब तक महिला उसके चंगुल से छूटी और बाहर आकर चिल्लाने का प्रयास करने लगी। इस पर आरोपी ने महिला के बाल पकड़कर उसे अंदर खींच लिया।

पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त तवा बरामद किया।
पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त तवा बरामद किया।

छाती पर चढ़कर गला दबाया, नहीं मरी तो पैर से कुचला
आरोपी ने महिला को जमीन पर पटक दिया और घर में रखे तवे से उस पर वार किया। महिला दर्द से छटपटाने लगी तो उसकी छाती पर चढ़ गया और उसके गले को हाथ से दबा दिया। इसके बाद भी महिला बचने का प्रयास करती रही। इस पर आरोपी ने छटपटा रही महिला के गले पर पैर रख दिया और उसे दबा दिया, जिसके कारण महिला की मौत हो गई। इसके बाद महिला के हाथ में पहनी चांदी की चूड़ियां निकाल लीं और वहां से भाग निकला।

आधा दर्जन वारदातों में जा चुका है जेल
थाना प्रभारी लखेश केंवट ने बताया कि आरोपी सूरज भोई निगरानी बदमाश है। वह इससे पहले भी आधा दर्जन से ज्यादा बार अलग-अलग अपराधों में जेल जा चुका है। आरोपी जब भी जेल से छूटकर आता नए अपराध की रणनीति बनाता और उसे अंजाम देने के बाद कुछ दिन ऐश करता था। फिर दुबारा उसी क्षेत्र में लौट कर अपराध करने लगता था। इसी सिलसिले में वह कई दफा जेल जा चुका था। सोमवार को उसे कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...