जांच:मलेरिया संक्रमित मिलने के बाद विभाग ने लिए 81 सैंपल, कोई भी नहीं मिला संक्रमित

जशपुर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मलेरिया का परीक्षण करते स्वास्थ्य अधिकारी। - Dainik Bhaskar
मलेरिया का परीक्षण करते स्वास्थ्य अधिकारी।

जशपुर जिले के बगीचा विकासखंड अंतर्गत पत्ताकेला गांव के बांसटोंगरी में एक परिवार के तीन लोगों में मलेरिया के लक्षण पाए जाने के बाद प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया है। बांसटोंगरी में मलेरिया एक कोरवा परिवार में पति-पत्नी समेत बच्चे में मलेरिया के लक्षण के बाद बगीचा अस्पताल में भर्ती कराया था। बिफनी 21 वर्ष पति निरंजन व 2 साल के पुत्र जगमोहन को 2 दिनों से बुखार की शिकायत थी। इसे गंभीरता से लेते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जांच अभियान चलाया। बगीचा विकास खंड के पत्ताकेला गांव में विशेष पिछड़ी जनजाति पहाड़ी कोरवा परिवारों के मलेरिया जांच के लिए कैंप लगाया गया।

यहां 81 लोगों के सैंपलों की जांच की गई, लेकिन इनमें से सभी की रिपोर्ट निगेटिव पाई गई। मलेरिया को लेकर स्वास्थ्य विभाग का अमला गांव की मॉनिटरिंग कर रही है। बीएमओ डॉ. आरएन दुबे ने बताया कि बगीचा विकासखंड के पत्ताकेला गांव के बांसटोंगरी में विशेष पिछड़ी जनजाति पहाड़ी कोरवा परिवारों के लिए मलेरिया जांच कैंप लगाया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा 81 लोगों का मलेरिया जांच कैंप में किया गया, लेकिन उन्हें एक भी मलेरिया संक्रमित मरीज नहीं मिले। आज भी स्वास्थ्य विभाग का अमला गांव में सर्वे का कार्य जारी रखेगी।

खबरें और भी हैं...