सुदूर गांव की बेटी ने किया टॉप:गांव से निकलकर अनीशा ने कक्षा दसवीं में टॉप टेन में जगह बनाई है

जशपुरनगर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दसवीं में टॉप करने वाली अनिशा एक्का ओडिशा बार्डर पर स्थित भाकूपारा गांव की है। यह एक ऐसा गांव है जहां तक पहुंचने के लिए ना तो सड़क है और ना ही यहां पानी की व्यवस्था है। इस गांव से निकलकर अनीशा ने कक्षा दसवीं में टॉप टेन में जगह बनाई है।

अनीशा एक्का का दसवीं का नौवां रैंक है। अनीशा ग्राम पंचायत खारीबहार के भाकूपारा की निवासी है। उसकी शुरूआती शिक्षा गांव के ही प्राथमिक स्कूल में हुई थी। अनीशा के पिता किसान और मां आंगनबाड़ी कार्यकर्ता है। माध्यमिक की पढ़ाई अनीशा ने खारीबहार के मिशन स्कूल में की है। उसके बाद अनीशा का चयन संकल्प शिक्षण संस्थान ने हुआ।

कुनकुरी में संकल्प शिक्षण संस्थान का यह दूसरा साल है। अनीशा बड़ी होकर इंजीनियर बनना चाहती है। अनीशा ने बताया कि उसकी पढ़ाई में उसके मां-बाप ने उसका बहुत साथ दिया। कभी भी उसे घरेलू कामकाज में नहीं उलझाया। उसके घर तक जाने के लिए सड़क नहीं है। अनीशा ने बताया कि कच्चे रास्ते पर वह रोजाना पैदल चलकर मिडिल स्कूल खारीबहार जाया करती थी। बरसात के दिनों में दिक्कत ज्यादा होती थी क्योंकि उसके गांव के रास्ते पर कीचड़ भरा था।

खबरें और भी हैं...