कार्यशाला का आयोजन:महिला हिंसा और गरीबी पर हुई परिचर्चा

जशपुरनगर18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जशपुर जन विकास संस्था के तत्वावधान में झरगांव में आम पेड़ के नीचे महिलाओं ने एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का विषय महिला हिंसा और गरीबी पर परिचर्चा और उसका निराकरण की रणनीति बनानी थी। इस कार्यशाला में झरगांव ,घटोटोली ,उच्चडीह, पाण्डुल तुतटोली, बड़ा करोंजा और डुमबरटोली की नवा बिहान स्व सहायता समूह की 56 महिलाओं ने भागीदारी की।

परिचर्चा में सरकारी योजनाओं जैसे मनरेगा, नरवा घुरवा बाड़ी और अन्य योजनाओं का लाभ महिलाओं को कैसे मिले इन योजनाओं से महिलाएं कैसे लाभान्वित हो , उन्हें कैसे जागरूक किया जाए, खेतों में फेंसिंग और घेराव कैसे करे ,जैविक और केंचुआ खाद का इस्तेमाल, जैविक खाद बनाकर उसे बाज़ार में बेचकर आमदनी, कोरोंजा और झरगांव की महिलाओं ने नरवा , घुरवा, बाड़ी द्वारा किये जा रहे कार्यों और उनके महत्व के विषय में जानकारी साझा की।

शराब की वजह से ग्रामीण इलाकों में महिला हिंसा: महिलाओं ने परिचर्चा में निष्कर्ष निकाला की ग्रामीण इलाकों में शराबखोरी की वजह से महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध और पारिवारिक अशांति है। जिन इलाकों और घरों में पुरुष अधिक शराब का सेवन करते हैं, वहां पर महिलाएं घरेलू हिंसा की अधिक शिकार होती है। अगर महिलाओं की अगुवाई में गांव में बैठक करके सामूहिक रूप से शराब बनाने को बैन कर दिया जाए तो महिला हिंसा में कमी आएगी। साथ ही पारिवारिक शांति कायम की जा सकेगी। महिलाओं ने जल्दी ही आसपास के गांव में बैठक करके सामूहिक शराबबंदी का निर्णय लेने की बात कही।

टोनही प्रताड़ना पर जताई गई चिंता
महिलाओ ने चर्चा में जिले में टोनही के नाम पर महिलाओं के खिलाफ हो रही हिंसा पर चिंता व्यक्त की और जिले हो रही इस तरह की घटनाएं और डराती इसलिए है, क्योंकि यहां टोनही प्रथा के खिलाफ विशेष कानून भी बना हुआ है, जिसमें जेल की सजा तक का प्रावधान है। ऐसे मामलों में गवाह और सबूत के अभाव में अपराधियों के छूटने पर चर्चा की।

कार्यक्रम में महिलाओं ने घरेलू हिंसा अधिनियम 2005 पर भी चर्चा करके उसके निवारण पर अपनी बात रखी। कार्यक्रम का संचालन मालती तिर्की और ललिता बाई ने किया। कार्यक्रम ममता कुजूर ,सरिता भगत ,सुचिता भगत ,झरगांव की सचिव विनीता टोप्पो, वार्ड पंच उर्मिला किस्पोट्टा, अंजू पूनम खाखा, रोजलिया टोप्पो, आनंद कुमारी लकड़ा, निर्मला किस्पोट्टा, रजंती बाई आदि उपस्थित थीं।

खबरें और भी हैं...