सेटअप परिवर्तन का आदेश हुआ निरस्त:शिक्षा विभाग 2 कदम आगे 4 कदम पीछे की रणनीति पर काम कर रहा है

जशपुरनगर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष संजय शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष हरेंद्र सिंह, एलडी बंजारा, जयेश टोपनो, तनु ठाकुर, अनिल रावत व जिलाध्यक्ष अनिल श्रीवास्तव ने कहा है कि 2008 में तत्कालीन शिक्षा सचिव नंदकुमार ने सेटअप जारी किया था। उस समय शिक्षक संगठनों से सुझाव लिया गया था। 14 वर्ष बाद सेटअप जारी किया गया उसमें शिक्षक संगठनों से सुझाव ही नहीं लिया गया।

संजय शर्मा ने कहा है कि छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन द्वारा वर्तमान सेटअप की विसंगतियों को रेखांकित कर सेटअप में सुधार के लिए ज्ञापन दिया गया था। ऐसे त्रुटियों को बताने के बाद सेटअप संबंधी आदेश को निरस्त किया गया। संजय शर्मा ने कहा कि शिक्षा विभाग प्रयोगशाला बन गया है। शिक्षा विभाग 2 कदम आगे 4 कदम पीछे की रणनीति पर काम कर रहा है। शिक्षा विभाग को वाहवाही के बदले ठोस व स्थायी दिशा बनाकर काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन ट्रांसफर, सेटअप, पदोन्नति जैसे बड़े मामलों पर शिक्षा विभाग ने निर्णय लिया लेकिन किसी भी निर्णय को पूर्णता नही दे पाए।

ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा सितंबर 2021 तक की गई विद्यार्थियों की प्रविष्टि जानकारी को आधार मानकर cg school.in में नवीन सेटअप अपलोड किए गए हैं। ट्रांसफर पोर्टल में भी वही प्रदर्शित हो रहा है, ऐसे में शिक्षक व प्रदेश के बीच शालाओं के सेटअप पर स्थिति स्पष्ट होना ही चाहिए। ताकि स्कूल में किसी भी सब्जेक्ट की पढ़ाई इस सेटअप के कारण प्रभावित न हो। बहरहाल नए आदेश में नया सेटअप निरस्त होने से शिक्षक राहत महसूस कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...