कुंडा थाना क्षेत्र के ग्राम ओड़ाडबरी में हुई घटना:टूटकर गिरे बिजली तार की चपेट में आए एक ही परिवार के 3 सदस्य, एक की मौत

कवर्धा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कुंडा थाना क्षेत्र के ग्राम ओड़ाडबरी में एक ही परिवार के 3 सदस्य टूटकर गिरे सर्विस लाइन की चपेट में आ गए। हादसे में एक की मौत हो गई है। जमीन पर गिरे तार को उठाने की कोशिश में यह हादसा हुआ। घटना दोपहर करीब साढ़े 12 बजे की है।

कुंडा टीआई मुकेश यादव के मुताबिक मृतक नेमदास घृतलहरे (60) ग्राम ओड़ाडबरी का रहने वाला था। खंभे से उसके घर तक बिजली के लिए सर्विस लाइन खींची गई है। घर की कवेलू (छावनी) पर जिस स्टैंड पर सर्विस लाइन टिका था, वह बारिश के कारण टूटकर गिर गया था। 15 वर्षीय कुलदीप उसी टूटे तार को उठाने की कोशिश कर रहा था, जिससे वह करंट की चपेट में आ गया।

ये देख संजू बाई (35) उसे बचाने के फेर में खुद भी चपेट में आ गई। दोनों को करंट लगा देख नेमदास भी उन्हें बचाने के लिए वहां आ गया। संजू बाई और कुलदीप तो बच गए, लेकिन नेमदास करंट से बुरी तरह झुलस गया। तीनों को एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टर ने नेमदास को मृत घोषित कर दिया। वहीं बाकी दो घायलों का अस्पताल में इलाज जारी है।

बारिश के मौसम में ये बरतें सावधानी
बरसात के दौरान करंट लगने की घटनाएं बढ़ जाती है। बिजली कंपनी पंडरिया के ईई अशोक कुमार बताते कि सावधानी बरतने से घटना से बचा जा सकताहै। बिजली लाइन के करीब कपड़े सुखाने के लिए लोहे के तार न बिलकुल ना बांधे।

यदि कोई बिजली के संपर्क में आ जाए, तो उसे बिल्कुल छुए नहीं, उसे सूखी लकड़ी से ही छुड़ाएं। नंगे पैर बिल्कुल भी बिजली के उपकरणाें का इस्तेमाल न करें। पशुओं के तबेलों के आसपास बिजली आपूर्ति के लिए वायरिंग खुली नहीं हो। बिजली खंभों से मवेशियों को न बांधे।

खबरें और भी हैं...