सीजी बोर्ड के नतीजे:कबीरधाम जिले में 10वीं में 70.27% और 12वीं में 79.17% बच्चों को मिली सफलता

कवर्धा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दसवीं में रैंकिंग में दूसरे स्थान पर रही आशिफा को मिठाई खिलाते परिजन - Dainik Bhaskar
दसवीं में रैंकिंग में दूसरे स्थान पर रही आशिफा को मिठाई खिलाते परिजन

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की 10वीं व 12वीं बोर्ड परीक्षा के नतीजे शनिवार दोपहर 12 बजे जारी हुए। कबीरधाम जिले में 10वीं में 70.27% और 12वीं में 79.17% बच्चे पास हुए हैं। खास बात यह है कि दसवीं बोर्ड की स्टेट रैंकिंग में जिले के 3 बच्चों ने जगह बनाई है, जो बड़ी उपलब्धि रही। इनमें आशिफा शाह ने 98.17 फीसदी अंक लेकर स्टेट रैंकिंग में दूसरे नंबर पर है।

वहीं पंकज कुमार साहू 97.33% के साथ 7वें और इंदु चंद्रवंशी 96.83% अंक के साथ स्टेट रैंकिंग में 10वें नंबर पर है। ओवरऑल रिजल्ट की बात करें, तो इस साल कक्षा 10वीं में 13475 बच्चों ने परीक्षा दिलाई थी। इनमें से 9462 बच्चे पास हुए हैं।

अच्छी बात यह रही कि स्टेट की टॉप- 10 लिस्ट में जिले के 3 बच्चों ने अपनी जगह बनाई है। इसी तरह कक्षा 12वीं में 9526 बच्चों ने परीक्षा दिलाई। इनमें 7541 बच्चे पास हुए हैं। माशिमं ने दोपहर 12 बजे नतीजों की घोषणा की। इधर रिजल्ट जानने के लिए चाॅइस सेंटर्स में स्टूडेंट्स की भीड़ लग गई। इसके अलावा मोबाइल फोन से भी नेट पर सर्च करते रहे।

बारहवीं बोर्ड में जिले की टॉपर लक्ष्मी अग्रवाल अपने परिवार के साथ।
बारहवीं बोर्ड में जिले की टॉपर लक्ष्मी अग्रवाल अपने परिवार के साथ।

10वीं: नतीजे में 29.73% की गिरावट
बीते साल की तुलना में इस साल 10वीं बोर्ड का रिजल्ट 29.73% तक कम हुआ है। पिछले साल कोरोना के कारण ऑनलाइन परीक्षा हुई थी। असाइनमेंट के आधार पर बच्चों को अंक दिए गए थे। असाइनमेंट परीक्षा में बैठने वाले सभी 16600 बच्चे पास हो गए थे। इनमें से 16393 बच्चे फर्स्ट डिवीजन थे। वहीं इस साल 4764 बच्चे फर्स्ट डिवीजन पास हुए हैं, जो बीते साल की तुलना में 25% भी नहीं है।

12वीं: नतीजे में 19.09% की गिरावट
12वीं बोर्ड के नतीजों में बीते साल की तुलना में इस बार 19.09 फीसदी कमी आई है। बीते साल 12वीं बोर्ड का रिजल्ट 98.26 फीसदी था, जो इस साल घटकर 79.17 फीसदी पर आ गई है। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि इस बार ऑफलाइन परीक्षा हुई है। कोरोना के कारण स्कूल बंद रहने से पढ़ाई प्रभावित हुई। वहीं पिछले साल छात्रों ने घर में बैठकर परीक्षा दिलाई थी। प्रोजेक्ट वर्क में भी अच्छे अंक मिले थे।

आईएएस बनना चाहती है आशिफा
10वीं की स्टेट टॉपर लिस्ट में आशिफा शाह का नाम दूसरे स्थान पर है। गुप्ता पारा कवर्धा की रहने वाली आशिफा काे 600 नंबर की परीक्षा में 589 मार्क्स मिले हैं। आशिफा का सपना आईएएस अफसर बनने का है। इसके लिए वह पढ़ाई में मेहनत भी कर रही है, जो रिजल्ट में भी दिखता है। इनके पिता रफीक शाह व्यवसायी हैं। मां नसरीन बानो शिक्षिका हैं। उन्होंने बताया कि बेहतर टाइम मैनेजमेेंट, लक्ष्य पर फोकस करने से सफलता मिली।

कांपादाह स्कूल का रिजल्ट 100%
जिले का एक सरकारी स्कूल ऐसा भी है, जहां 12वीं बोर्ड में 100 फीसदी बच्चे पास हुए हैं। वो है कांपादाह का हायर सेकंडरी स्कूल। यहां 87 में से 86 बच्चे फर्स्ट डिवीजन से पास हुए हैं। एक बच्चा सेकंड डिवीजन आया है। यह लगातार चौथा साल है, जब यहां का रिजल्ट 100% रहा। प्राचार्य रूपचंद जायसवाल बताते हैं कि यह शिक्षकों की मेहनत व नवाचार का नतीजा है।

खबरें और भी हैं...