अवैध प्लाटिंग की खेती:हाईवे किनारे प्लॉट में मुरुम से बनाई सड़क मशीन से खोदी, पूर्व में बसी 10 कॉलोनियां अब तक नहीं हुईं रेगुलर

कवर्धा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बिलासपुर बायपास सड़क किनारे अवैध प्लाटिंग पर कार्रवाई की गई। - Dainik Bhaskar
बिलासपुर बायपास सड़क किनारे अवैध प्लाटिंग पर कार्रवाई की गई।

नेशनल हाईवे पर रायपुर- बिलासपुर बायपास रोड किनारे करीब 4 एकड़ कृषि भूमि पर अवैध प्लाटिंग की जा रही थी। प्लाट बेचने के लिए मुरुम बिछाकर सड़क बनाई जा चुकी थी। सूचना पर नगर पालिका कवर्धा और राजस्व विभाग की टीम ने शनिवार को इस अवैध प्लाटिंग के खिलाफ कार्रवाई की। मशीन से खुदाई कर प्लाट पर बनी सड़क संरचना को बिगाड़ा गया। बता दें कि पूर्व में ऐसे ही 10 कॉलोनियां बस चुकीं हैं, जो अब शहर का हिस्सा हैं। इन कॉलोनियों का अब तक नियमितीकरण नहीं हो सका है।

हर के वार्ड क्रमांक-24 में हाईवे किनारे नरेश सिंह की 0.798 हेक्टेयर (1.97 एकड़), वीरेंद्र सिंह की 0.399 हेक्टेयर (98 डिसमिल) और प्रहलाद सिंह की 0.399 हेक्टेयर (98 डिसमिल) कृषि भूमि है। इस कृषि भूमि पर अवैध प्लाटिंग की गई थी। नोटिस देने के बाद भी नहीं माने, तो अवैध प्लाटिंग पर कार्रवाई की गई है।

आगे भी कार्रवाई करने की चेतावनी
अफसरों की मानें, तो नगर एवं ग्राम निवेश सिर्फ कॉलोनी व अन्य निर्माण कार्य के पूर्व एनओसी जारी करने का काम करता है। एनओसी के शर्तों के अनुरूप अगर निर्माण नहीं हो रहा है, तो संबंधित विभाग उस पर कार्रवाई कर सकता है। लेकिन अगर कहीं पर सिर्फ अवैध प्लांटिंग हुई है, तो उस पर नगर एवं ग्राम निवेश, राजस्व विभाग व नपा को कार्रवाई का अधिकार है।

सिस्टम में संक्रमण: अवैध प्लाटिंग रुक नहीं रही

  • बिना ले- आउट व एनओसी के जमीन रजिस्ट्री यहां जमीन की रजिस्ट्री बिना ले- आउट और एनओसी के हो रहे हैं। गुरु नाला की जमीन पर अवैध प्लाटिंग को लेकर जब राजस्व विभाग की किरकिरी हुई थी। तब रजिस्ट्री के लिए ले-आउट और एनओसी को अनिवार्य किया गया था। करीब 18 एकड़ कृषि भूमि पर अवैध प्लाटिंग पर रोक लगा दी थी। फिर भी बिना ले-आउट व एनओसी रजिस्ट्री हो गई।
  • 10% मकान बन जाए, तो कॉलोनियां वैध अवैध कॉलोनियों को वैध करने का फार्मूला बदलने के साथ ही अवैध प्लाटिंग की संख्या बढ़ने लगी है। पहले 25 प्रतिशत बसाहट होने पर अवैध कॉलोनियों को वैध कर दिया जाता था। अब इसे घटाकर 10 फीसदी कर दिया गया है। आउटर के ज्यादातर इलाकों में अवैध प्लाटिंग तेजी से हो रहा है। गुरु नाला की जमीन पर अवैध प्लाटिंग उदाहरण है।
खबरें और भी हैं...