पूर्व प्रेमी के साथ रची ब्वॉयफ्रेंड को मारने की साजिश:​​​​​​​लक्की हत्याकांड में नाबालिग गर्लफ्रेंड को भी पुलिस ने पकड़ा; ऑडियो क्लिप से खुला राज

​​​​​​​कांकेर/धमतरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के कांकेर में 24 अप्रैल को रुद्री नदी में मिले भावेश देवांगन उर्फ लक्की (21) की हत्या मामले में धमतरी पुलिस ने उसकी नाबालिग गर्लफ्रेंड को भी पकड़ लिया है। आरोप है कि उसने ही अपने पूर्व प्रेमी और दोस्तों के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची थी। ऑडियो क्लिप मिलने के बाद इस बात का खुलासा हुआ है। पुलिस इस मामले में लक्की के दोस्तों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। पूरा मामला लव ट्रांयगल में हत्या किए जाने का है।

दरअसल, कांकेर के कोरर में कोदागांव निवासी लक्की 23 अप्रैल को अपने दोस्तों सिंगारभाटा निवासी उमाशंकर नागे और संजय नगर निवासी नाबालिग के साथ धमतरी जाने के लिए निकला था। आरोपियों ने लक्की को उसकी गर्लफ्रेंड से एक युवक के छेड़खानी करने की जानकारी दी थी। धमतरी पहुंचने पर वहां रह कर पढ़ाई कर रहे एक अन्य नाबालिग को भी साथ ले लिया। तीनों दोस्त लक्की को रूद्री नदी के पास लेकर गए और वहां उसे जमकर शराब पिलाई। फर उसके कपड़े उतारे और हत्या की नीयत से नहर में फेंक दिया था।

नदी से निकाला गया युवक का शव।
नदी से निकाला गया युवक का शव।

हत्या के बाद गर्लफ्रेंड ने पूर्व प्रेमी के साथ खाई थी मैगी
लक्की की हत्या के बाद पूर्व प्रेमी उमाशंकर नागे और एक नाबालिग लक्की की गर्लफ्रेंड के कमरे में पहुंचे। वहां उससे मैगी बनवाई और तीनों ने खाई। इसके बाद लक्की की बाइक लेकर कोरर के मोदे पहुंचे और बाइक को जलाकर कांकेर लौट गए। खास बात यह है कि ग्रामीणों ने शनिवार शाम 6.30 से 7 बजे के बीच दो बाइक सवारों के साथ लड़की को भी देखे जाने की बात कही थी। हालांकि पुलिस ने तब गर्लफ्रेंड को क्लीन चिट दे दी थी। इसके बाद से ही लक्की के परिजन और गांव के लोग लड़की की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे।

परिजनों ने ही पुलिस को उपलब्ध कराई ऑडियो क्लिप
पुलिस को कांकेर के रामनगर निवासी लड़की के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिल रहे थे। इस पर लक्की के परिजनों ने ही पुलिस को ऑडियो क्लिप उपलब्ध कराई। परिजनों ने पुलिस को बताया कि गर्लफ्रेंड ने लक्की को धमतरी मिलने के बहाने बुलाया था, लेकिन जब वह लापता हुआ तो पूछताछ करने पर गुमराह करती रही। हत्या की जानकारी होने के बावजूद साक्ष्य काे छुपाती रही। इस आडियो क्लिप में स्पष्ट हो गया गर्लफ्रेंड हत्यारे तीनों दोस्तों से मिली हुई थी। पुलिस एक सप्ताह पहले ही लड़की को पूछताछ के लिए ले गई थी।

घटना स्थल से 50 किमी दूर जली हुई हालत में मिली बाइक।
घटना स्थल से 50 किमी दूर जली हुई हालत में मिली बाइक।

जिस पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया, उसे हत्या में फंसाना चाहती थी
जांच में यह भी खुलासा हुआ कि धमतरी सनौद के छात्र एकांश साहू पर छेड़छाड़ का आरोप लगाकर लक्की को बुलाया गया था, उसी पर हत्या का पूरा मामला थोपने की तैयारी थी। गर्लफ्रेंड और उसकी मां ने एकांश को सलाह दी थी कि वह अपना मोबाइल बंद कर फरार हो जाए। उनकी मंशा थी कि इससे हत्या का आरोप एकांश पर मढ़ा जा सकेगा। छात्र ने एेसा नहीं किया। उसी ने बताया कि भावेश के साथ तीनों युवक व लड़की गए थे। छात्र ने यह भी बताया कि उसने कभी छेड़छाड़ नहीं की, बल्कि लड़की ही उससे बार बार बात करती थी।

पूर्व प्रेमी ने साजिश रची, तो लड़की भी हो गई शामिल
पुलिस पूछताछ में पता चला कि उमाशंकर नागे का रामनगर कांकेर निवासी लड़की से 3 साल से प्रेम संबंध था। इसी दौरान पिछले 3-4 माह से भावेश उर्फ लक्की भी लड़की से बातचीत करते हुए उसके काफी करीब आ गया था। जिससे लड़की उससे प्रेम करने लगी थी। इसी बात को लेकर हत्या के 20 दिन पहले उमाशंकर ने लक्की के साथ झगड़ा करते उसे धमकाया था। पूर्व प्रेमी ने अपने प्यार के रास्ते में आए लक्की को हटाने के लिए दो दोस्तों के साथ मिलकर साजिश रची। इसमें युवती भी शामिल हो गई।