सख्ती:हर ब्लॉक में महिला अधिकारियों की टीम कर रही है कन्या आश्रम और छात्रावासों की जांच

कांकेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्टर ने जांच टीम की ली बैठक। - Dainik Bhaskar
कलेक्टर ने जांच टीम की ली बैठक।

जिले में संचालित कन्या आश्रम-छात्रावासों में छात्राओं की सुरक्षा व्यवस्था एवं आवश्यक सुविधाओं की जांच के लिए कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला द्वारा प्रत्येक ब्लॉक के लिए चार से पांच महिला अधिकारियों की टीम गठित की है, जिनके द्वारा कन्या आश्रम-छात्रावासों में जाकर जांच किया जा रहा है। इसके साथ ही छात्राओं से चर्चा कर उनकी सुरक्षा व्यवस्था एवं सुविधा के संबंध में जानकारी भी लिया जा रहा है तथा गुड टच एवं बैड टच और आत्मरक्षा के लिए कराटे एवं स्वास्थ्य के लिए योगा की जानकारी भी दिया जा रहा है।

कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला की अध्यक्षता में जांच टीम के महिला अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। इसमें उन्होंने अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। इनके आधार पर 7 आश्रम-छात्रावासों के अधीक्षिका को कारण बताओ नोटिस जारी करने के लिए कलेक्टर द्वारा आदेश जारी किया गया है। इसके साथ ही आश्रम-छात्रावासों की साफ-सफाई में कोताही बरतने वाले दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों के विरूद्ध भी कार्यवाही करने के लिए आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त को कहा गया है।

कलेक्टर द्वारा सभी आश्रम-छात्रावासों में खाना एवं नाश्ता का उचित समय निर्धारित करने, प्रत्येक छात्रावास में शिकायत पेटी लगाने, शौचालय एवं स्नानागार को दुरूस्त करने तथा शौचालय की सफाई के लिए स्वीपर की व्यवस्था करने, खिड़कियों में मच्छर से बचाव के लिए जाली लगाने, सभी आश्रम-छात्रावासों में मच्छरदानी का उपयोग करने, बिजली कनेक्शन एवं आंतरिक विद्युतीकरण की जांच करने, बर्तनों की स्थिति की जांच करने, बच्चों के सोने के चादर की नियमित सफाई कराने कहा है।

कंडम आश्रम-छात्रावासों की मरम्मत कराने के लिए प्रांक्कलन प्रस्तुत करने भी कहा गया। उनके द्वारा सभी एसडीएम को भी अपने क्षेत्र के आश्रम-छात्रावासों की जांच करने के लिए कहा गया है। जांच टीम के अधिकारियों ने बताया उनके द्वारा आश्रम-छात्रावासों का अवकाश के दिन अथवा शाम में आश्रम-छात्रावासों का निरीक्षण किया। छात्राओं से बातचीत की गई एवं उनकी सुरक्षा एवं सुविधाओं के संबंध में जानकारी ली गई। छात्रावासों मे भोजन की गुणवत्ता को सुधारने एवं समय पर भोजन प्रदाय करने के लिए निर्देश दिए गए।

इन आश्रमों के अधीक्षकों को मिली नोटिस

जांच टीम के अधिकारियों द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने पोस्ट मैट्रिक एवं प्री मैट्रिक कन्या छात्रावास चारामा के गार्ड तथा दैनिक वेतनभोगी को हटाने, कन्या छात्रावास जुनवानी पण्डरीपानी, पोस्ट मैट्रिक अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास अलबेलापारा कांकेर, कन्या आश्रम आमाकड़ा दुर्गूकोंदल, प्री-मैट्रिक कन्या छात्रावास पीढ़ापाल, पोस्ट मैट्रिक कन्या छात्रावास नरहरपुर, कन्या आश्रम लोहत्तर के अधीक्षिका और प्री-मैट्रिक कन्या छात्रावास चवांड़ के तत्कालिन अधीक्षिका को कारण बताओ नोटिस जारी का गया है। कन्या छात्रावास जुनवानी पण्डरीपानी के बालिकाओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराने भी कहा गया। इसी प्रकार प्री एवं पोस्ट मैट्रिक कन्या छात्रावास दुर्गूकोंदल, कन्या आश्रम लोहत्तर के रसोईया को हटाने कहा गया है।

खबरें और भी हैं...