अभियान:आंगनबाड़ी में पहुंचना शुरू हुआ रेडी-टू-ईट

पखांजूर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महिला समूहों और शासन के बीच विवाद समाप्त होने के बाद आधी अधूरी तैयारी के साथ आंगनबाड़ी केंद्रों में पूरक पोषण आहार रेडी टू ईट पहुंचना शुरु हो गया है। पहले तक रेडी टू ईट निर्माण की जिम्मेदारी थी महिला समूह कर रही थी। वह अब केंद्रों में बीज निगम द्वारा निर्मित पैकेट पहुंचाने का काम कर रही है।

परियोजना पखांजूर अंतर्गत आंगनबाड़ी केंद्रों में रेडी टू ईट पहुंचना शुरू हो गया है। शासन और समूह के बीच विवाद के चलते अप्रैल माह में रेडी टू ईट का वितरण नहीं हुआ था। इसके चलते छोटे बच्चों, गर्भवती माताओं, अति कुपोषित बच्चों को पूरक पोषण नहीं मिल पा रहा था। वर्तमान में केंद्रों में पहुंचा पूरक पोषण आहार भी पर्याप्त नहीं है। इसे महज 6 माह से 3 वर्ष तक के बच्चों को ही उपलब्ध कराया गया है।

गर्भवती माताएं, अति कुपोषित बच्चों के लिए अब तक पोषण आहार नहीं आने के चलते उनका वितरण नहीं किया गया है। पूरक पोषण आहार के वितरण का जिम्मा उन्हीं समूह को दिया गया है, जो अब तक इसका निर्माण कर रही थीं। जिन समूह ने अनुबंध के लिए आवेदन कर दिया है, उन्हीं समूहों को इस माह से वितरण की जिम्मेदारी भी दे दी गई।

खबरें और भी हैं...