...जब पालतू कुत्तों को कोविड वैक्सीन लगवाने पहुंचा युवक, VIDEO:बोला-मेरे शेरू, टॉमी, मोती को भी लगा दो; समझाने पर गालियां देते हुए की मारपीट

कोरबा18 दिन पहले
स्वास्थ्यकर्मियों ने काम किया बंद।

छत्तीसगढ़ के कोरबा स्थित एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पालतू कुत्तों को कोरोना वैक्सीन लगवाने को लेकर हंगामा हो गया। एक ग्रामीण अपने 3 पालतू कुत्तों को लेकर पहुंचा था। स्वास्थ्य कर्मियों ने उसे समझाया तो ग्रामीण ने उनके साथ गाली गलौज और हाथापाई कर दी। इसके बाद स्वास्थ्य कर्मी सुरक्षा की मांग को लेकर हड़ताल पर चले गए हैं।

सारा मामला बालको थाना क्षेत्र के अजगरबहार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का है। दरअसल, माखुरपानी निवासी रामायण सिंह मंझवार शुक्रवार को अपने 3 पालतू कुत्तों शेरू, मोती और टॉमी को कोरोना वैक्सीन की डोज लगवाने पहुंचा था। केंद्र पर कर्मचारियों ने उसे समझाया की ये जानवरों के लिए नहीं है, उन्हें इसकी डोज नहीं दी जाती है।

स्वास्थ्य केंद्र में हाथापाई करता नशे में धुत ग्रामीण।
स्वास्थ्य केंद्र में हाथापाई करता नशे में धुत ग्रामीण।

आरोप है कि इसके बाद नशे में धुत रामायण सिंह ने अस्पताल स्टाफ के साथ बदतमीजी करना शुरू कर दिया। उसने स्वास्थ्य कर्मियों को गालियां दी। जब स्वास्थ्य कर्मियों ने विरोध किया तो मारपीट करने लगा। किसी तरह कर्मचारियों ने उसे अस्पताल से बाहर निकाला और गेट पर ताला लगा दिया। विरोध में स्वास्थ्य कर्मी हड़ताल पर बैठ गए हैं और वहीं धरना दे रहे हैं।

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी दिनेश कुमार धनगर ने कहा कि जब तक उन सबको सुरक्षा नहीं मिल जाती, वे हड़ताल जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि ये कोई पहली घटना नहीं है, बल्कि उनके और स्टाफ के साथ अक्सर लोग मारपीट और गाली गलौज करते हैं। उन्होंने कहा कि महिला स्टाफ के साथ भी बदतमीजी की जाती है। फील्ड में जा रही ANM भी सुरक्षित नहीं होती।

प्रभारी का कहना है कि जब हम लोग ही सुरक्षित नहीं हैं, तो जनता की सेवा कैसे करेंगे। स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी ने कहा कि मामले की शिकायत बालको थाने में की गई है। उन्होंने कहा कि हम तब तक काम शुरू नहीं करेंगे, जब तक हमें सुरक्षा मुहैया नहीं कराई जाती।