कोयला चोरी करते वक्त हाईटेंशन तार से लगा करंट:गंभीर रूप से झुलसा, बिलासपुर रेफर; मालगाड़ी पर चढ़कर दे रहा था घटना को अंजाम

कोरबा3 महीने पहले
झुलसे हुए शख्स की मदद करते लोग।

कोरबा जिले में शुक्रवार को खड़ी मालगाड़ी से कोयला चोरी करते वक्त हाईटेंशन तार की चपेट में आकर एक शख्स गंभीर रूप से झुलस गया। घटना कुसमुंडा थाना क्षेत्र के प्रेम नगर की है। यहां रामनगर गली में रहने वाला कन्हैया कुमार (45 वर्ष) कोयला चोरी करने की कोशिश कर रहा था, इसी दौरान उसे करंट लग गया।

कोरबा RPF थाना प्रभारी बीके यादव ने बताया कि आज सुबह 4 बजे कन्हैया कुमार मालगाड़ी से कोयला चोरी करने की नीयत से उस पर चढ़ा हुआ था। खड़ी मालगाड़ी के ऊपर से हाईटेंशन वायर गुजर रही थी। प्रेम नगर सुराकछार रेलवे लाइन उसके घर के पास से गुजरती है। वो कोयले के बड़े-बड़े टुकड़े चोरी कर मालगाड़ी के ऊपर से नीचे फेंक रहा था, इसी दौरान वो हाइटेंशन तार की चपेट में आ गया और बुरी तरह से झुलस गया। सुबह 4 बजे चूंकि अंधेरा रहता है, इसलिए उसे हाईटेंशन लाइन का अंदाजा नहीं हुआ।

डायल 112 की टीम घायल को उठाते हुए।
डायल 112 की टीम घायल को उठाते हुए।

इधर करंट लगते ही वो मालगाड़ी से नीचे गिर गया। सुबह जब लोग वहां से गुजरे, तो उन्होंने कन्हैया कुमार को नीचे जमीन पर पड़ा हुआ देखा। उसका शरीर पूरा काला पड़ गया था। लोगों ने तुरंत इसकी सूचना डायल 112 को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने तुरंत बुरी तरह से झुलस गए कन्हैया कुमार को जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया। उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने प्राथमिक चिकित्सा देकर उसे बिलासपुर रेफर कर दिया। वो मजदूरी का काम करता है। उसके परिवार वाले भी इलाज कराने तुरंत बिलासपुर उसे लेकर निकल गए हैं।

जिला अस्पताल ले जाया गया झुलसे हुए शख्स को।
जिला अस्पताल ले जाया गया झुलसे हुए शख्स को।

कन्हैया कुमार मूल रूप से बिहार का रहने वाला बताया जा रहा है। वो वर्तमान में कुसमुंडा थाना क्षेत्र में प्रेम नगर की रामनगर बस्ती इलाके में किराए के मकान में पत्नी और 3 बच्चों के साथ रहता है। वो क्षेत्र की खदानों में खाना बेचने के साथ ही गाड़ियों में ग्रीस लगाने का भी काम करता है। इसके अलावा वो मजदूरी भी करता है। कोरबा RPF थाना प्रभारी बीके यादव ने बताया कि सुराकछार प्राइवेट एसईसीएल साइडिंग रेलवे लाइन से गुजरने वाली मालगाड़ी से पहले भी कई लोग कोयला चोरी करते हुए पकड़े जा चुके हैं।

गंभीर रूप से झुलसा हुआ शख्स।
गंभीर रूप से झुलसा हुआ शख्स।

हाईटेंशन वायर की चपेट में आकर पहले भी हुए हैं कई हादसे

3 महीने पहले बालोद के दल्लीराजहरा में नगरपालिका के वार्ड 15 में काम करते वक्त एक मजदूर हाईटेंशन वायर की चपेट में आ गया था। वो दोमंजिला मकान में मजदूरी कर रहा था। मजदूर अनिल बघेल (28 साल) की हाईटेंशन तार की चपेट में आकर मौत हो गई थी।

31 मई को बेमेतरा जिले में हाईटेंशन तार टूटकर गिरने से 10 मवेशी उसकी चपेट में आ गए थे। करंट लगने से इन सभी मवेशियों की मौत हो गई थी। घटना नवागढ़ विकासखंड के ग्राम शाखा पेंड्रा में हुआ था। यहां 6 गाय, 3 बछिया और एक बछड़े की करंट लगने से मौत हुई थी। गांव के किसान हरिदास कार्तिक, हरिश्चंद्र, संजय, शेषनारायण और सावित्री नाम के लोगों के ये मवेशी थे।

10 मवेशियों की गई थी जान।
10 मवेशियों की गई थी जान।

दिसंबर 2021 में कांकेर जिले में हाईटेंशन तार की चपेट में आकर एक हाईवा चालक दीपक की मौत हो गई थी। चालक गिट्टी डंप करने के बाद हाईवा की ट्रॉली को नीचे करना भूल गया था। गाड़ी चलाने के दौरान ट्रॉली हाईटेंशन तार की चपेट में आ गई थी। जिससे पूरी हाईवा में करंट फैल गया था। करंट लगने से चालक की मौके पर ही मौत हो गई थी। मामला कोयलीबेड़ा थाना क्षेत्र का था।