नक्सलियों ने कमांड IED से बोलेरो उड़ाई:नारायणपुर-दंतेवाड़ा के बीच किया ब्लास्ट, MP के एक युवक की मौत, 11 घायल, 1 की हालत गंभीर; 10 राजनांदगांव के रहने वाले

दंतेवाड़ाएक वर्ष पहले
नक्सलियों ने कमांड IED के जरिए विस्फोट किया है। 

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा-नारायणपुर के बीच गुरुवार सुबह नक्सलियों ने IED ब्लास्ट कर एक बोलेरो को उड़ा दिया। इससे बोलेरो में सवार MP के एक युवक की मौत हो गई। जबकि 13 अन्य लोग घायल हो गए हैं। इनमें एक की हालत गंभीर है। सूचना मिलने पर दंतेवाड़ा SP डॉ. अभिषेक पल्लव सहित जवान मौके पर पहुंच गए हैं। घायलों को एंबुलेंस से दंतेवाड़ा के गीदम स्थित अस्पताल लाया गया है। खास बात यह है कि नक्सलियों ने कमांड IED यानी रिमोट दबाकर ब्लास्ट किया है। आमतौर पर नक्सली कमांड IED का इस्तेमाल बड़े हमले के दौरान करते हैं।

SDOP अभिषेक पैकरा मौके पर हैं और अपने प्राइवेट वाहन से घायलों को पहुंचाने का काम कर रहे हैं।
SDOP अभिषेक पैकरा मौके पर हैं और अपने प्राइवेट वाहन से घायलों को पहुंचाने का काम कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक नारायणपुर से कुछ लोग एक बोलेरो में दंतेवाड़ा आ रहे थे। गुरुवार सुबह करीब 7.30 बजे वह मालेवाही इलाके के घोटिया पहुंचे थे कि इसी दौरान IED ब्लास्ट किया गया। घोटिया में सड़क निर्माण कार्य चल रहा है। इसी के नीचे नक्सलियों ने IED प्लांट किया था। बताया जा रहा है कि बोलेरो का अगला पहिया जैसे ही IED पर पड़ा, नक्सलियों ने ब्लास्ट कर दिया। इसके चलते बोलेरो बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है।

मालेवाही से ग्राउंड रिपोर्ट:मजदूरी के लिए जा रहे थे आंध्र प्रदेश, रास्ता न भटकें, इसलिए गूगल मैप का सहारा लिया; ब्लास्ट के घायलों ने ढाई किमी पैदल कैंप पहुंच दी जानकारी

गंभीर रूप से घायल मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं। जवानों का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।
गंभीर रूप से घायल मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं। जवानों का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

दंतेवाड़ा जिला अस्पताल में 5 को कराया गया भर्ती

ब्लास्ट में मध्य प्रदेश के बालाघाट में भगतवाही निवासी धनसिंह (30) पुत्र सिलदार की मौत हो गई। जबकि रूपलाल (25) की हालत गंभीर है। घायलों में 10 लोग राजनांदगांव के जामगांव के रहने वाले हैं। इनमें से 5 को दंतेवाड़ा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि 6 अन्य को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्‌टी दे दी गई। बोलेरो सवार सभी लोग राज मिस्त्री हैं और काम से तेलंगाना जा रहे थे। मौके पर पहुंचे जवान इलाके में सर्चिंग कर रहे हैं।

गुरुवार सुबह करीब 7.30 बजे IED ब्लास्ट किया गया।
गुरुवार सुबह करीब 7.30 बजे IED ब्लास्ट किया गया।

नारायणपुर का इलाका, जिम्मेदारी दंतेवाड़ा पुलिस के पास

यह मालेवाही थाना इलाका नारायणपुर जिले में आता है। हालांकि नजदीक होने और नक्सल प्रभावित होने के चलते इसकी जिम्मेदारी दंतेवाड़ा पुलिस को सौंपी गई है। SDOP अभिषेक पैकरा मौके पर पहुंचे और अपने प्राइवेट वाहन से घायलों को अस्तपाल पहुंचाया।

खबरें और भी हैं...