पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भाठागांव बस टर्मिनल और एप्रोच रोड तैयार:राजधानी की 5 प्रमुख सड़कें ढाई हजार बसों से इसी महीने मुक्त, 20% तक घटेगा ट्रैफिक प्रेशर

रायपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लोकार्पण 20 के बाद कभी भी हो सकता है

राजधानी रायपुर की भीड़भरी सड़कों को अगले 30 दिन के भीतर बसों से पूरी तरह छुटकारा मिल जाएगा, यानी शहर में सिटी बसों के अलावा कोई भी बस नजर नहीं आएगी। दरअसल नगर निगम ने भाठागांव का बस टर्मिनल, एप्रोच रोड तथा उससे जुड़ी सुविधाओं को अंतिम रूप दे दिया है। नगर निगम 20 जनवरी के बाद किसी भी तारीख पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के हाथों इस बस टर्मिनल के लोकार्पण की मंजूरी के लिए जुट गया है। भाठागांव टर्मिनल शुरू होते ही पंडरी बस स्टैंड से सारी बसें हटकर नए बस टर्मिनल में शिफ्ट हो जाएंगी। इससे राजधानी की प्रमुख सड़कों पर ट्रैफिक का प्रेशर भी 20 प्रतिशत तक कम होने की उम्मीद की जा रही है। नया बस टर्मिनल शुरू होते ही राजधानी की प्रमुख सड़कों पर बिलासपुर, दुर्ग-भिलाई, सराईपाली, जगदलपुर और बलौदाबाजार से आने वाली ढाई हजार यात्री बसों की एंट्री बंद कर दी जाएगी। ये बसें अलग-अलग रुट से आकर शहर में प्रवेश किए बिना रिंग रोड से सीधे भाठागांव बस टर्मिनल पहुंचेंगी और वहीं से बाहर चली जाएंगी। इनसे इन सड़कों ट्रैफिक का दबाव में 20 फीसदी और कुछ में तो इससे अधिक कमी की संभावना है। भास्कर की पड़ताल के मुताबिक बिलासपुर से आने वाली बसों से फाफाडीह चौक पर जाम लगता है। बलौदाबाजार की ओर से आने वाली गाड़ियों की वजह से लोधीपारा चौक और पंडरी बस स्टैंड में जाम लगता है। जगदलपुर से आने वाली गाड़ियों के कारण टिकरापारा, कालीबाड़ी चौक और मोतीबाग चौक व जीईरोड पर लोग जाम में फंसते हैं। दुर्ग-भिलाई व राजनांदगांव की ओर से आने वाली बसों के कारण भी शहर के भीतर की कई सड़कों पर जाम लगता है। चारों दिशाओं से आने वाली बसें पंडरी की सड़क से बस स्टैंड पहुंचती हैं, इसलिए वहां ट्रैफिक के हालात बहुत खराब हैं। अब भाठागांव अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल तैयार है। इसे रिंग रोड के नजदीक इसीलिए बनाया गया, ताकि शहर में बसें नहीं घुसने दी जाएं।

आधा दर्जन रूट पर ट्रैफिक दबाव में संभावित कमी को ऐसे समझिए
1. महासमुंद-रायपुर रूट : महासमुंद, आरंग के अलावा ओडिशा से बसें आती हैं। तेलीबांधा चौक से केनाल रोड से शहर की ओर रोजाना 75 हजार गाड़ियां आती हैं। सिर्फ बसें इस ट्रैफिक प्रेशर का 20 प्रतिशत हैं।
2. दुर्ग-रायपुर रूट : दुर्ग-भिलाई की ओर से महाराष्ट्र, एमपी के अलावा राजनांदगांव, कवर्धा, दुर्ग-भिलाई की बसें आती हैं। रोजाना 1.10 लाख गाड़ियों में 15% बसें होती हैं।

3. बिलासपुर- रायपुर: मध्यप्रदेश, झारखंड, बिहार, जशपुर, सरगुजा, कोरबा, रायगढ़, बलरामपुर, कवर्धा, बिलासपुर से बसें भनपुरी, फाफाडीह होकर आती हैं। रोज 1.15 लाख वाहनों के ट्रैफिक प्रेशर में बसें 14 % हैं।
4. बलौदाबाजार-रायपुर रूट : भाटापारा, बलौदाबाजार, सारंगगढ़, रायगढ़ से लेकर बिलाईगढ़ की बसें आती हैं। पंडरी रोड पर रोजाना 80-85 हजार गाड़ियां चलती हैं। इसमें 13 फीसदी बस का ट्रैफिक होता है।
5. अभनपुर- रायपुर रूट : अभनपुर की ओर से बस्तर, धमतरी, गरियाबंद, देवभोग की बसें आती हैं। अधिकांश बसें पचपेड़ी नाका से रिंग रोड-1 तेलीबांधा, केनाल रोड से आती है। कालीबाड़ी रोड में बस के कारण 7 फीसदी ट्रैफिक का दबाव रहता है।

"बस टर्मिनल की सारी तैयारी पूरी कर चुके हैं। मुख्यमंत्री से अनुमति मिलते ही लोकार्पण की तारीख घोषित कर देंगे। यह एक माह के भीतर हो जाएगा। शहर में बसें बंद होते ही जिला प्रशासन, पुलिस और निगम मिलकर ट्रैफिक की नई रणनीति पर काम करेंगे।"
-एजाज ढेबर, महापौर रायपुर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति पूर्णतः अनुकूल है। बातचीत के माध्यम से आप अपने काम निकलवाने में सक्षम रहेंगे। अपनी किसी कमजोरी पर भी उसे हासिल करने में सक्षम रहेंगे। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और...

    और पढ़ें