पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • All Organizations Canceled Holi Celebrations, Explained People Throughout The Day. Administration police Officers

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब त्योहारों में भीड़ सख्त मना:होली मिलन समारोह सभी संगठनों ने रद्द किए, मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपये का जुर्माना

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सदर में डेढ़ सौ साल में पहली बार सेठजी की बारात नहीं, न सड़क पर रंग-गुलाल - Dainik Bhaskar
सदर में डेढ़ सौ साल में पहली बार सेठजी की बारात नहीं, न सड़क पर रंग-गुलाल

राजधानी में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने के बाद प्रशासन ने त्योहारों तथा धार्मिक उत्सवों के लिए सख्त गाइडलाइन जारी कर दी है। यह साफ किया गया है कि होली, शबेबारात और गुडफ्राइडे समेत किसी भी तरह के त्योहार में सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं होंगे।

इसीलिए सभी संगठनों ने मिलन समारोह पहले ही रद्द कर दिए हैं। लोग मोहल्लों या सार्वजनिक जगहों पर लोग भीड़ न लगाएं, भीड़ में होली न खेलें इसलिए पुलिस की गाड़ियां दिनभर शहर में गश्त करेंगी। प्रशासन के अफसरों को भी मॉनिटरिंग के लिए सड़कों पर उतार दिया गया है। संबंधित क्षेत्रों के इंसीडेंट कमांडर कलेक्टर और दूसरे अफसरों को इसकी लगातार रिपोर्ट देंगे।

दूसरी ओर प्रशासन ने होलिका दहन में केवल पांच लोगों को मौजूद रहने की अनुमति दी गई थी, लेकिन रविवार की रात अधिकतर जगहों पर भीड़ के साथ ही होलिका दहन किया गया। पुलिस सड़कों और सार्वजनिक जगहों पर लोगों को समझाइश देती रही, लेकिन लोग नहीं माने।

हालांकि पिछले साल की अपेक्षा इस साल लोगों की भीड़ आधी रही। अपार्टमेंट और बंद जगहों पर भी लोगों ने होलिका दहन किया। हालांकि इस बार होली में नगाड़े, डीजे या लाउडस्पीकर दिखाई नहीं दिए। होलिका दहन में भी लोग बिना नगाड़ों के ही नजर आए। नई गाइडलाइन में सभी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम और होली मिलन समारोह रद्द कर दिए गए हैं।

समारोहपूर्वक न मनाएं पर्व
राजधानी में होली के दिन 50 से ज्यादा बड़ी जगहों पर होली खेली जाती थी। लेकिन इस बार किसी भी जगह पर होली समारोह का आयोजन नहीं किया गया है। कॉलोनियों और अपार्टमेंट सोसायटियों से भी कहा गया है कि वे अपने सामुदायिक भवन, हॉल या क्लब में होली समारोह का आयोजन न करें। बताया जा रहा है कि अधिकतर सोसाइटियों ने लोगों से कैंपस परिसर में गाइडलाइन के साथ ही होली खेलने की अपील की है।

आज भी रहेगी सख्ती

  • होली मिलन समारोह या अन्य किसी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं होंगे। पुलिस का पहरा रहेगा।
  • धार्मिक स्थल केवल व्यक्तिगत पूजा के लिए खुले रहेंगे। यानी एक बार में केवल एक ही व्यक्ति वहां मौजूद रहेगा।
  • दोपहिया गाड़ियों में 2 और चारपहिया वाहनों में 4 लोग सवार होंगे। इससे ज्यादा लोग होने पर जुर्माना भरना होगा।
  • डीजे, नगाड़ा, लाउडस्पीकर, माइक या किसी भी तरह के ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग करना प्रतिबंधित रहेगा।
  • मल्टीप्लेक्स, टॉकीज, कमर्शियल-शॉपिंग कांप्लेक्स, मॉल्स में होली में जांच होगी। त्योहार में सख्ती बढ़ाएंगे।
  • किसी भी सार्वजनिक स्थान पर बिना अनुमति के पांच से ज्यादा लोग इकट्ठा नहीं हो सकेंगे। ऐसे लोगों पर कार्रवाई।
  • इन नियमों का पालन नहीं करने वाले या कोरोना गाइडलाइन को ताक पर रखने वालों के खिलाफ एफआईआर होगी।

सदर में डेढ़ सौ साल में पहली बार सेठजी की बारात नहीं, न सड़क पर रंग-गुलाल
राजधानी के सदर बाजार इलाके की 150 साल पुरानी परंपरा कोरोना की वजह से इस साल टूट गई। सदर बाजार में एकादशी से होली उत्सव शुरू हो जाता है। इस साल न तो सेठ नाथूदास की बारात ही निकली, और न ही व्यापारियों का फंक्शन हुआ।

यही नहीं, सदर रोड पर जहां दो दिन पहले होली शुरू हो जाती थी, एक दिन पहले तक वही सड़क सूनी है। राजधानी में सदर की होली खासी प्रचलित है। यहां पर होली से चार दिन पहले यानी एकादशी से त्योहार शुरू होता रहा है। आज से करीब डेढ़ सौ साल पहले सदर में होली की राजस्थानी परंपरा शुरू हुई थी। यहां नाहटा मार्केट के बाद सेठ नाथूदास की प्रतिमा स्थापित की गई है। होली से पहले नाथूदास की बारात निकाली जाती रही, जिसकी खासी मान्यता है।

सदर बाजार व्यापारी संघ के हरख मालू ने बताया कि सेठ नाथूदास की बारात में शामिल होने और उनका आशीर्वाद लेने से मुरादें पूरी होती हैं। कोरोना को लेकर प्रशासन के गाइडलाइन को मानते हुए कारोबारियों ने स्वस्फूर्त इस साल बारात न निकालने का फैसला किया, लेकिन विधिवत पूजा रोज हो रही है।

बारात के बाद नाहटा मार्केट में भव्य फंक्शन होता है। इसमें दो-ढाई हजार लोगों का भोजन तैयार होता है। यह भी आयोजित नहीं किया गया। आम लोग दो दिन पहले से इस सड़क से गुजरना बंद कर देते हैं, क्योंकि परंपरा अनुसार यहां से गुजरने वाले हर व्यक्ति को रंग लगाया जाता है। इस साल रंग नहीं लगाया जा रहा है, इस वजह से सड़क भी सूनी है।

हाेली में भी लगाना होगा मास्क, नहीं तो पुलिस काटेगी 500 का जुर्माना
त्योहार में रंग-गुलाल के साथ लोगों को मास्क लगाना जरूरी है। एक साथ 5 से ज्यादा लोग खड़े होकर होली नहीं खेल पाएंगे। क्योंकि शहर में धारा 144 लागू है। त्योहार के दौरान कलेक्टर के आदेश का पालन नहीं करने वाले पर पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी। बिना मास्क के घूमने या घर से बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। हर थाने में 3-3 पेट्रोलिंग गाड़ी रहेगी। टीआई के अलावा सभी सीएसपी और अतिरिक्त फोर्स दिया गया है।

पूरे शहर में रविवार से मंगलवार तक 600 पुलिस वाले तैनात रहेंगे। हर सड़क पर खाकी वर्दी दिखाई देगी। सड़क पर जो भी बिना मास्क या 5 से ज्यादा दिखेंगे। उन पर कार्रवाई की जाएगी। बिना मास्क वालों से पुलिस 500 रुपए वसूलने के साथ ही धारा-144 के उल्लंघन का केस भी दर्ज करेगी। नगर निगम के अमले ने रविवार को छुट्‌टी के दिन भी शहर में अभियान चलाकर मास्क नहीं पहनने वालों के खिलाफ कार्रवाई की।

इस दौरान 201 लोगों से 18450 रुपए जुर्माना भी वसूला गया। होली के दिन छोड़कर निगम की स्वसहायता समूह की महिलाएं अगले दिन से फिर कार्रवाई में जुट जाएंगी। कलेक्टर के आदेश के बाद निगम की महिलाएं शहर में चौकों, मुख्य सड़क और बाजारों के आसपास खड़ी होकर कार्रवाई कर रही हैं। सभी जोनों ने मिलकर रविवार काे भी बड़ी कार्रवाइयां कीं। अब लोगों से मास्क नहीं पहनने पर जुर्माने के रूप में 500 रुपए तक वसूला जा रहा है।

निगम जोन-1 की टीम ने बिना मास्क पहने घर से बाहर घूमते मिले 94 लोगों से 8300 रुपय जुर्माना वसूला। इसी तरह जोन-2 ने 36 से 3200, जोन-3 ने 37 से 3810, जोन-8 ने 34 से 3140 रुपए वसूले। इस तरह अन्य सभी जोन मिलाकर 201 लोगों से 18450 रुपये का जुर्माना वसूला गया। उन्हें सख्त चेतावनी भी दी गई कि अब मास्क नहीं पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

"लोगों से आग्रह है कि अपनी और सभी की सुरक्षा का ध्यान रखें और त्योहार घर पर ही मनाएं। प्रशासन और पुलिस के अफसर हर जगह तैनात किए गए हैं। नियम नहीं तोड़ें वर्ना एफआईआर होगी।"
डॉ. एस भारतीदासन, कलेक्टर रायपुर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें