• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Anganwadi Workers And Assistants Of Rajnandgaon Will Stop Work On 30 September, Preparing For State Level Agitation

नियमितीकरण की मांग पर बुलंद होगी आवाज:राजनांदगांव की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाएं 30 सितंबर को बंद कर देंगी काम, प्रदेश स्तरीय आंदोलन की तैयारी

राजनांदगांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजनांदगांव में आंदोलन की रूपरेखा तैयार करती हुईं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
राजनांदगांव में आंदोलन की रूपरेखा तैयार करती हुईं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं के हितों के लिए देशभर में काम करने वाली राष्ट्रीय संस्था आईफा ( All india federation of anganwadi workers and helpers) के राष्ट्रव्यापी आह्वान पर छत्तीसगढ़ की आंगनबाड़ी कर्मी भी 30 सितंबर को एकदिवसीय हड़ताल के लिए तैयार हैं। इसी कड़ी में राजनांदगांव जिले में जबरदस्त तैयारी की गई है। बताया गया है कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता 30 सितंबर को राजनांदगांव में काम बंद करेंगी।

आंगनबाड़ी कर्मी अपनी नियमितीकरण समेत मांगों को लेकर एक बार फिर आंदोलन का रूख अख्तियार कर रही हैं। जानकारी मिली है कि 30 सितंबर को छत्तीसगढ़ के कई जिला मुख्यालयों में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया जाएगा। इसी कड़ी में राजनांदगांव जिले में भी आंदोलन की जोरदार तैयारी की गई है।

छत्तीसगढ़ जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका कल्याण संघ की राजनांदगांव जिला अध्यक्ष लता तिवारी ने बताया है कि बीते दिनों आईफा की राष्ट्रीय नेतृत्व की तरफ से एआर सिंधु छत्तीसगढ़ पहुंचीं थीं। उन्होंने राजधानी में संघ की पदाधिकारियों की बैठक लेकर इस आंदोलन का आह्वान किया था, जिसके अंतर्गत 30 सितंबर के लिए तैयारी की गई है। उन्होंने बताया कि जिला मुख्यालय राजनांदगांव में 'सीटू' के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं का इस आंदोलन को जबरदस्त समर्थन मिल रहा है।

लता तिवारी ने यह भी बताया कि प्रदेश स्तर पर प्रांताध्यक्ष पद्मावती साहू के द्वारा राजधानी से सभी जिला अध्यक्षों से बातचीत करते हुए आंदोलन को सफल बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने यह भी बताया है कि गत रविवार को राजनांदगांव जिले के छुईखदान में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं की एक बैठक हुई, जिसमें सभी ने आंदोलन को सफल बनाने का संकल्प लिया।

खबरें और भी हैं...