पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब तक का सबसे बड़ा अनुष्ठान:600 जगहों पर लोगों ने साथ मिलकर किया सवा लाख हनुमान चालीसा पाठ, कोरोना से मुक्ति मांगी

रायपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना से मुक्ति के लिए दुनियाभर में प्रार्थनाएं की जा रहीं हैं। राजधानी में भी मार्च से लगातार कई अनुष्ठान हो रहे हैं। इसी क्रम में रविवार को शहर के 600 जगहों पर कई संगठनों के सदस्यों ने मिलकर सवा लाख हनुमान चालीसा का पाठ किया। महामारी से मुक्ति के लिए शहर में किया गया यह अब तक का सबसे बड़ा अनुष्ठान है। इस महानुष्ठान का आयोजन हनुमान महापाठ समिति व सहयोगी संस्थाओं द्वारा किया गया था। महंत रामसुंदर दास, संत युधिष्ठिर लाल समेत विधायक सत्यनारायण शर्मा, बृजमोहन अग्रवाल, कुलदीप जुनेजा और सच्चिदानंंद उपासने समेत सैकड़ों परिवाराें और संगठन के सदस्यों ने अपने-अपने निवास स्थान से हनुमान चालीसा का पाठ किया। वहीं आयोजन समिति के सदस्यों ने गुढ़ियारी स्थित हनुमान मंदिर में अनुष्ठान किया। प्रमुख सलाहकार विजय अग्रवाल, शिवनारायण मूंधड़ा, संयोजक मुकेश शाह ने बताया कि इस दौरान प्रत्येक व्यक्ति ने 11-11 चालीसा का पाठ किया। कोरोना महामारी को देखते हुए शासन द्वारा जारी नियमों के तहत ये आयोजन किया गया। एक ही दिन व एक ही समय पर आयोजित इस अनुष्ठान की शुरुआत हनुमान चालीसा के पाठ से हुई।

ये संगठन हुए शामिल
गायत्री परिवार, आर्ट ऑफ लिविंग, धर्मसंघ पुरोहित परिषद, श्री पुनरासर भक्त मंडल, अग्रवाल सभा, माहेश्वरी सभा, अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन (छत्तीसगढ़), छत्तीसगढ सकल गुजराती समाज, छत्तीसगढ़ लोहाणा महिला मंडल, जलाराम सेवा समिति, सिंधी पंचायत लाखेनगर, महाराष्ट्र मंडल, एकता महिला मंडल, अखंड ब्राह्मण समाज, अग्रणी महिला मंडल, सर्वमंगल फाउंडेशन, बूढ़ापारा दशहरा उत्सव समिति, सार्वजनिक महिला कल्याण एवं सेवा समिति, सृजन संस्थान, समग्र सेवा समिति, छत्तीसगढ़ी अग्रवाल समाज, जिंदगी न मिलेगी दोबारा, शहर जिला साहू महिला प्रकोष्ठ, कर्मा वीरांगना संस्था आदि।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपने अपनी दिनचर्या से संबंधित जो योजनाएं बनाई है, उन्हें किसी से भी शेयर ना करें। तथा चुपचाप शांतिपूर्ण तरीके से कार्य करने से आपको अवश्य ही सफलता मिलेगी। परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर ज...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser