पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धान की सियासत:धान खरीदी में रुकावट को किसानों का मुद्दा बनाने की कोशिश, कल छत्तीसगढ़ कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक, जिलाध्यक्षों से भी होगी बात

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने आज कांग्रेस के राष्ट्रीय कोषाध्याक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल का राजीव भवन में स्वागत किया। बंसल दिवंगत मोतीलाल वोरा की श्रद्धांजलि सभा में शामिल होने दुर्ग आए थे। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने आज कांग्रेस के राष्ट्रीय कोषाध्याक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल का राजीव भवन में स्वागत किया। बंसल दिवंगत मोतीलाल वोरा की श्रद्धांजलि सभा में शामिल होने दुर्ग आए थे।
  • किसानों को केंद्र सरकार और भाजपा के खिलाफ लामबंद करने का बन सकता है कार्यक्रम
  • खरीदी और संग्रहण केंद्रों में जाम हो रहा है सरकारी धान का पूरा स्टॉक, विपक्ष हमलावर

छत्तीसगढ़ में धान की सरकारी खरीदी में आ रही रुकावटों पर राजनीति जारी है। सरकार इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहरा रही है। वहीं विपक्ष इसके लिए राज्य सरकार के कुप्रबंधन को जिम्मेदार ठहरा रहा है। कई जगह किसानों ने राज्य सरकार की व्यवस्था के खिलाफ आंदोलन शुरू कर दिया है।

इस बीच छत्तीसगढ़ कांग्रेस ने धान खरीदी पर आए मौजूदा संकट को किसानों पर आया संकट बताने की कोशिश में है। प्रदेश कांग्रेस रविवार को कार्यकारिणी की बैठक कर रही है। बताया जा रहा है, इस बैठक में इसकी रणनीति पर चर्चा संभावित है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने बताया, प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम की उपस्थिति में 3 जनवरी को दोपहर 12 बजे प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक होगी। यह बैठक प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन में आयोजित है। इस बैठक के बाद ठीक बाद एक अन्य बैठक होनी है। दोपहर बाद 3 बजे से प्रस्तावित इस बैठक में प्रदेश नेतृत्व सभी जिला अध्यक्षों से चर्चा करेगा।

बताया जा रहा है, वर्ष की इस पहली बैठक में मौजूदा राजनीतिक स्थितियों, धान खरीदी पर संकट और विपक्ष खासकर भाजपा के रुख पर चर्चा होगी। माना जा रहा है कि इस बैठक में प्रदेश कांग्रेस किसी आंदोलन अथवा राजभवन तक मार्च की घोषणा कर सकती है। जिलाध्यक्षों की बैठक में निर्माणाधीन जिला कांग्रेस कार्यालयों-राजीव भवन के काम की समीक्षा होनी है। वहीं संगठनात्मक चुनौतियों पर भी बात हो सकती है।

छत्तीसगढ़ में इन दिनों धान की सरकारी खरीदी चल रही है। सरकार 12 लाख से अधिक किसानों से 52 लाख मीट्रिक टन धान खरीद चुकी है। धान की मीलिंग के बाद बना हुआ चावल एफसीआई के गोदामों में जमा नहीं हो पा रहा है। इसकी वजह से धान जाम हो गया है। कृषि मंत्री रविंद्र चौबे का कहना है, अगर समाधान नहीं हुआ तो धान खरीदी बंद हो सकती है।

CM ने प्रधानमंत्री को पत्र भी लिखा है

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर समस्या की जानकारी दी है। उन्होंने उनसे मुलाकात का समय मांगा ताकि वे मंत्रियों के साथ उनसे बात करने जा सकें। इस पत्र में मुख्यमंत्री ने बारदाना संकट का भी जिक्र करते हुए चावल जमा करने का आदेश तत्काल जारी कराने की मांग की है।

किसान संगठनों से बात कर चुके 6 मंत्री

सरकार के छह मंत्रियों ने गुरुवार को करीब 300 किसान प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। उन्हें वस्तुस्थिति की जानकारी दी। मंत्रियों ने किसानों का सहयोग मांगा। केंद्र पर दबाव बनाने का सुझाव मांगा। उसके बाद भाजपा सांसदों के घेराव, राज्यपाल को ज्ञापन और जरूरत पड़ी तो दिल्ली जाकर प्रदर्शन की भी बात आई।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

और पढ़ें