BJP नेता के साथ दिनदहाड़े चाकूबाजी:सुबह भाई के साथ चाय पीने निकले थे, सामने से आए बदमाशों ने पहले भाई को मारा, बचाने गए नेता पर भी किया हमला; 2 गिरफ्तार

भिलाई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने थाने में हंगामा कर दिया। - Dainik Bhaskar
आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने थाने में हंगामा कर दिया।

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में चाकूबाजी की घटना सामने आई है। बदमाशों ने बीजेपी नेता और उनके भाई पर दिनदहाड़े हमला किया है। जिस वक्त आरोपियों ने उन पर हमला किया, उस वक्त नेता अपने भाई के साथ चाय पीने बाहर गए हुए थे। बताया गया कि बदमाशों ने पहले उनके भाई पर हमला किया था, फिर जब नेता उन्हें बचाने गए तो बदमाशों ने उन पर भी हमला कर दिया है। मामला मोहननगर थाना के शक्ति नगर इलाके का है। पुलिस ने इस मामले में 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

दरअसल, दुर्ग युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष कन्हैया देवांगन और उनका भाई यशवंत देवांगन मंगलवार सुबह चाय पीने के लिए निकले थे। इसी दौरान शक्ति नगर के ही प्रेम, शिवा यादव, भक्त प्रहलाद यादव और उसके अन्य साथी पहुंच गए और यशवंत के साथ गाली गलौज करने लगे। वहीं जब यशवंत ने इस बात का विरोध किया तब प्रेम वर्मा और शिवा यादव ने यशवंत पर ही चाकू से हमला कर दिया। यह देख कन्हैया मौके पर पहुंचे और यशवंत को बचाने लगे। लेकिन प्रेम और उसके साथियों ने मिलकर कन्हैया पर भी चाकू से हमला कर दिया। जिससे कन्हैया और यशवंत घायल हो गए। घटना को अंजाम देकर सभी आरोपी मौके से फरार हो गए थे।

कन्हैया देवांगन के हाथ पर गंभीर चोटें आई हैं।
कन्हैया देवांगन के हाथ पर गंभीर चोटें आई हैं।

इधर, घटना की खबर लगते ही मौके पर बीजेपी कार्यकर्ता मोहननगर थाने पहुंच गए और जमकर हंगामा करने लगे। कार्यकर्ताओं ने मांग की कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाए। जिसके बाद पुलिस ने शिवा और भक्त प्रहलाद को दुर्ग से ही गिरफ्तार कर लिया है। प्रेम और अन्य आरोपियों के खिलाफ भी केस दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है।

इस वजह से किया हमला

इस मामले में बीजेपी मंडल मंत्री जितेंद्र सिंह राजपूत ने बताया कि सोमवार को यशवंत देवांगन के भाई शिव देवांगन के यहां पार्टी थी। वहां प्रेम वर्मा, शिवा यादव, भक्त प्रहलाद यादव सहित अन्य लड़के भी पहुंचे थे। यह लोग पार्टी में पहुंची मेहमान लड़कियों को देखकर कमेंट कर रहे थे। यह देख यशवंत ने उन्हें मना किया तो दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया। यशवंत से प्रेम, शिवा और उसके साथियों से गली-गलौज भी हुई थी। अगले दिन मंगलवार सुबह यशवंत जब चाय पीने देशमुख होटल गए तो वहां उसे प्रेम मिल गया। पहले से चाकू लेकर खड़े प्रेम ने शिवा और साथियों को बुला लिया। इसके बाद वह लोग रात की बात को लेकर यशवंत से झगड़ा करने लगे और चाकू से हमला कर दिया।

खबरें और भी हैं...