पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नवंबर से स्कूल शुरू होने की संभावना:CBSE ने सिलेबस में जोड़ा कोरोना, फेस रिकॉग्निशन सिस्टम भी शुरू

रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो।
  • सीबीएसई ने कोरोना संक्रमण से स्टूडेंट्स को बचाने के लिए उन्हें इस महामारी के लक्षण और बचाव के खास तरीके बताने उठाया कदम

देश के कई राज्यों में स्कूल शुरू हो चुके हैं। छत्तीसगढ़ में भी नवंबर से स्कूल शुरू होने की संभावना जताई जा रही है। ऐसे में स्टूडेंट्स को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए सीबीएसई ने स्टूडेंट्स को इस महामारी से जुड़ी हर जानकारी देने के लिए 11वीं-12वीं के सिलेबस में काेराेना टाॅपिक काे ही शामिल कर लिया है। अब स्टूडेंट्स इसके लक्षण और बचने के तरीके पढ़ेंगे। इसके अलावा सीबीएसई ने स्कूल स्टूडेंट्स के लिए फेस रिकॉग्निशन सिस्टम लॉन्च किया है। 10वीं-12वीं के स्टूडेंट्स के लिए सैंपल पेपर भी जारी किए हैं।

अब आधार और मोबाइल नंबर के बिना भी डाउनलोड कर सकेंगे डॉक्यूमेंट : फेशियल रिकाॅग्निशन सिस्टम (चेहरे की पहचान प्रणाली) से 10वीं-12वीं बोर्ड के स्टूडेंट अपने एजुकेशनल डॉक्यूमेंट आसानी से डाउनलोड कर सकेंगे। स्टूडेंट्स को डॉक्यूमेंट डाउनलोड करने के लिए आधार नंबर और फोन नंबर भरने की जरूरत नहीं पड़ेगी। सिर्फ फेस रिकॉग्निशन से वे मार्कशीट व अन्य डॉक्यूमेंट्स डाउनलोड कर सकेंगे। इस प्रक्रिया में स्टूडेंट्स की लाइव तस्वीर को उनके द्वारा पहले सबमिट की गई तस्वीर से मिलाया जाएगा। फाेटाे मैच हाेने पर वे डाॅक्यूमेंट डाउनलाेड कर सकेंगे।

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से पढ़ाएंगे कोरोना
कोरोना की चुनौतियों को अब स्कूल की पढ़ाई में शामिल किया जाएगा। सीबीएसई ने इसे 11वीं, 12वीं के पाठ्यक्रम में शामिल कर लिया है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से इसकी पढ़ाई कराई जाएगी। छात्र कोरोना को गंभीरता से लें और इसके बचाव के तरीके समझें, इसलिए बोर्ड ने एक आईटी कंपनी के साथ समझौता किया है। कोरोना को जानने और उसके बचाव के अलावा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में जलवायु, स्वास्थ्य सेवाएं, जल व कृषि को भी शामिल किया गया है। छात्र अब इन चीजों को भी इस विषय में पढ़ेंगे। बोर्ड ने तमाम स्कूलों को इस विषय को शुरू करने का निर्देश दिया है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस विषय को शुरू करने के लिए स्कूलों को रजिस्ट्रेशन कराना होगा। बोर्ड से अनुमति लेने के बाद ही यह शुरू किया जा सकेगा।

10वीं-12वीं के नए सिलेबस पर बेस्ड सैंपल पेपर भी जारी
कोरोना से बचाव के तहत स्कूल बंद हैं और पढ़ाई ऑनलाइन कराई जा रही है। स्टूडेंटस की मदद के मकसद से जुलाई में सीबीएसई ने पाठ्यक्रम में कटौती की घोषणा भी की थी। इसी के अनुरूप सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए बचे हुए पाठ्यक्रम के साथ सैंपल क्वेश्चन जारी किए हैं। स्टूडेंट्स cbseacademic.nic.in पर विजिट कर 10वीं-12वीं के सभी विषयों के सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं।

12वीं में पहली बार क्षमता आधारित सवाल पूछे जाएंगे
सैंपल पेपर के आधार पर ये स्पष्ट हो गया है कि इस साल 12वीं में पहली बार स्टूडेंट्स से क्षमता आधारित (कॉम्पिटेंसी बेस्ड) सवाल पूछे जाएंगे। इन सवालों की संख्या कुल प्रश्नों की तुलना में 10 फीसदी होगी। 10वीं में इस बार क्षमता आधारित सवालों की संख्या में बढ़ोतरी की है। लगभग 20 फीसदी सवाल क्षमता आधारित होंगे। सीबीएसई से मिली जानकारी के मुताबिक यह बदलाव केवल इस साल की बोर्ड परीक्षाओं के लिए ही किए गए हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें