पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बीजापुर में नक्सली मुठभेड़:रॉकेट लॉन्चर और AK-47 से किया हमला, 20 मिसिंग जवानों के शव एयरफोर्स की मदद से किए रेस्क्यू; 31 जवान घायल, 16 CRPF के

बीजापुर/रायपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों से मुठभेड़ में शहीद हुए 22 जवानों में से 8 की जानकारी सामने आई है। इनमें एक सब इंस्पेक्टर भी हैं।
  • तर्रेम क्षेत्र के सिलगेर के जंगल में एक दिन पहले हुई थी मुठभेड़, शहीद हुए 8 जवानों की जानकारी सामने आई
  • DG CRPF बोले- नक्सलियों ने अपनी स्ट्रेटजी बदली, उसे समझने के लिए जाएंगे, जवानों की ट्रेनिंग में होगा बदलाव

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में मुठभेड़ के दौरान फंसे जवानों और शहीदों को लेने के लिए कई रेस्क्यू टीम पर नक्सलियों ने फिर हमला कर दिया है। नक्सलियों ने जवानों को निशाना बनाते हुए IED ब्लास्ट किया। बताया जा रहा है कि इसकी चपेट में आकर एक जवान घायल हो गया है। वहीं मिसिंग हुए 21 में से 20 जवानों के शवों को एयरफोर्स की मदद से रिकवर कर लिया गया है।

CRPF की कोबरा, CRPF बस्तरिया बटालियन, DRG, CF और STF के जवानों की तर्रेम क्षेत्र के सिलगेर के जंगल में जोनागुड़ा के पास शनिवार को नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई थी। एक बड़े एंबुश में जवानों को नक्सलियों ने फंसा लिया और फायरिंग शुरू कर दी। मुठभेड़ सुबह करीब 12.30 बजे शुरू हुई और शाम करीब 5.30 बजे 4 घंटे तक चली। इस दौरान नक्सलियों ने UGNL, रॉकेट लांन्चर, इंसास और AK-47 से हमला किया था।

शहीद जवानों के नाम सामने आए, सबसे ज्यादा DRG व CRPF कोबरा के
बताया जा रहा है कि मुठभेड़ में 23 जवान शहीद हुए हैं। इनमें DRG के 8, STF के 6, कोबरा बटालियन के 8 और बस्तर बटालियन के 1 जवान शामिल है। इनमें कोबरा के एक इंस्पेक्टर और DRG के एक सब इंस्पेक्टर भी हैं। मुठभेड़ में 30 से ज्यादा जवान घायल हैं। इनमें 16 CRPF के हैं। जिनमें से 7 को रायपुर में भर्ती कराया गया है।

DRGSTFCOBRA 210बस्तर बटालियन
सब इंस्पेक्टर- दीपक भारद्वाज निवासी मालखरौदा जांजगीर चांपाहेड कांस्टेबल - श्रवण कश्यप निवासी बनियागांव, बकावंड, बस्तरइंस्पेक्टर - दिलीप कुमार दास निवासी भारेगांव, बारपेटा, असमकांस्टेबल - समैया माड़वी
हेड कांस्टेबल - रमेश कुमार जुर्री निवासी पंडरीपानी, चरामा, कांकेरकांस्टेबल - रामदास कोर्राम निवासी बनजुगानी, कोंडागांवहेड कांस्टेबल - राजकुमार यादव निवासी रोनोपल्ली, फिरोजाबाद, उत्तर प्रदेश
हेड कांस्टेबल - नारायण सोढ़ी निवासी पुन्नूर, आवापल्ली, बीजापुरकांस्टेबल - जगतराम कंवर निवासी आलीखुटा, डोगरगांव, राजनांदगांवसीटी - राकेश्वर सिंह मनहास निवासी मेतेर, कोथियन, जम्मू
कांस्टेबल - रमेश कोरसा निवासी बरदेला, जांगला, बीजापुरकांस्टेबल - सुखसिंह फरस निवासी मोहदा, मैनपुर, गरियाबंद

सीटी - धर्मदेव कुमार निवासी थेकहा, चईका, चंदौली, उत्तर प्रदेश

कांस्टेबल - सुभाष नायक निवासी बासागुड़ा, बीजापुरकांस्टेबल - रमाशंकर पैकरा निवासी अमदला, लखनपुर, सरगुजासीटी - शखामुरी मुरारी कृष्ण निवासी गैतपुड़ी, गुंटूर, आंध्र प्रदेश

सहायक कांस्टेबल - किशोर एंड्रीक निवासी चेरपाल, बीजापुर

कांस्टेबल - शंकरनाथ निवासी भैरमगढ़, बीजापुरसीटी - रघु जगदीश निवासी डिगुयाविधि, विजयनगरम, आंध्र प्रदेश
सहायक कांस्टेबल - सनकुराम सोढ़ी निवासी पेदापाल, मिरतुर, बीजापुरसीटी - शंभू राय निवाी भाग्यपुर, नार्थ त्रिपुरा, त्रिपुरा
सहायक कांस्टेबल - भोसाराम करटामी निवासी एकेली, नेलसनार, बीजापुरसीटी - बबलू रंभा निवासी डमरापथापारा, गोवलपारा, असम

नक्सलियों के दक्षिण कॉरिडोर को बंद करना है
DG नक्सल ऑपरेशन अशोक जुनेजा ने बताया कि मुठभेड़ में नक्सलियों को भी काफी नुकसान हुआ है। सूचना के आधार पर 3 से 4 ट्रकों से घायल और मृत नक्सलियों को उनके साथियों ने ट्रांसपोर्ट किया है। DG जुनेजा ने बताया कि बासागुड़ा और जगरगुंडा में तर्रेम के बाद कैंप बनना था। इससे बनने से हम दक्षिण में 12 किमी तक एक्सेस कर लेते और नक्सली कॉरिडोर को बंद कर देते। नक्सली ऐसा नहीं चाहते थे। इसके चलते उन्होंने इसे अंजाम दिया।

नक्सलियों की स्ट्रेटजी समझने मौके पर जाएंगे
इस मुठभेड़ के बाद रायपुर पहुंचे CRPF के DG कुलदीप सिंह ने कहा कि किसी भी घटना से सीख ली जाती है। हर बार हम हथियारों, इक्यूपमेंट और ट्रेनिंग में चेंज लाते हैं। अबघटना स्थल पर जाने की प्लानिंग है। देखेंगे कि नक्सलियों ने अपनी स्ट्रेटजी में क्या बदलाव किया है। इसके आधार पर हम भी बदलाव करेंगे। उन्होंने कहा कि 5 बटालियन फोर्स और आई है। इससे नक्सलियों को असुविधा हो रही है। अब तो और जल्दी कैंप लगेंगे।

लौटते जवानों पर नक्सलियों ने दूर से हमला किया
CRPF के DG कुलदीप सिंह ने बताया कि नक्सलियों ने लौटते हुए जवानों पर हमला किया। दोरनागुड़ा और टेकुलगुडम की पहाड़ियों के बीच 100 से 200 मीटर की दूरी से नक्सली फायरिंग कर रहे थे। इस दौरान जवान उनके एंबुश को तोड़ते हुए आगे बढ़े। इसमें 4-5 जवान घायल हो गए। अपने साथियों को सुरक्षा घेरे में लेकर जवान आगे बढ़े तो गांव के पास जनमिलिशिया के सदस्यों ने LMG के जरिए दूर से फायरिंग की।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

और पढ़ें