पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Chhattisgarh Congress Bicycle Rally In Bilaspur Today; 250 Bicycles Borrowed From Girl Students, Laborers And Morning Walkers For Protest Against Inflation

महंगाई के विरोध का 'कांग्रेसी जुगाड़':बड़े नेताओं के लिए मॉर्निंग वॉकर्स से उधार ली 250 साइकिल; अब से कुछ देर बाद रैली, PCC चीफ को 'गड्‌ढों' से बचाने की भी कवायद

बिलासपुर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बिलासपुर में साइकिल रैली को लेकर सुबह रेलवे ग्राउंड में कार्यकर्ता और पदाधिकारी प्रैक्टिस करते रहे। - Dainik Bhaskar
बिलासपुर में साइकिल रैली को लेकर सुबह रेलवे ग्राउंड में कार्यकर्ता और पदाधिकारी प्रैक्टिस करते रहे।

बढ़ती महंगाई को लेकर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन जारी है। अब से कुछ देर बाद बिलासपुर में साइकिल रैली होने वाली है। इस रैली में PCC चीफ मोहन मरकाम समेत पार्टी के कई बड़े नेता भी शामिल होंगे। खास बात यह है कि रैली में शामिल होने वाली 250 साइकिलों को जुगाड़ से एकत्र किया गया है। नेताओं के लिए यह 250 MTB (माउंटेन बाइक) साइकिल मॉर्निंग वॉकर्स से उधार ली गई हैं। इस बात का भी ध्यान रखा जा रहा है कि उन्हें गड्‌ढों वाली सड़क से न ले जाया जाए।

दरअसल, पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों और बढ़ती महंगाई के विरोध में कांग्रेस राज्य के अलग-अलग जिलों में प्रदर्शन कर रही है। इस विरोध प्रदर्शन को हिट करने की कमान भी PCC चीफ मरकाम के कंथों पर है। वे खुद इस रैली का नेतृत्व करेंगे, लेकिन इसके लिए साइकिल ही नहीं मिल रही थी। इस पर पदाधिकारियों ने निर्देश जारी कर दिया कि अब कार्यकर्ताओं को अपने-अपने क्षेत्रों से साइकिल का जुगाड़ करेंगे। निर्देश में खासतौर पर कहा गया कि बड़े नेताओं के लिए आरामदायक साइकिलें होनी चाहिए।

विधायक, मेयर करेंगे MTB की सवारी, कार्यकर्ताओं के लिए स्कूली बच्चों से ली साइकिलें
इसके बाद कार्यकर्ताओं ने मॉर्निंग वॉकर से 25 MTB साइकिल उधार ली हैं। इन साइकिलों पर PCC चीफ समेत विधायक, मेयर, शहर अध्यक्ष, पार्टी प्रवक्ता और पदाधिकारी सवारी करेंगे। बाकी साइकिलें मजदूरों और शासकीय स्कूल में पढ़ने वाले 9वीं और 10वीं के बच्चों से उधार ली गई हैं। यह साइकिलें पिछली सरकार में शुरू की गई सरस्वती योजना के तहत बच्चों को बांटी गई थीं। इसमें भी छात्राओं से सबसे ज्यादा साइकिल ली गई हैं। ऐसा मानना है कि वे साइकिलें ज्यादा आरामदायक होती हैं।

मॉर्निग वॉकर साइकिल चलाते हुए। ऐसे ही लोगों से इन साइकिलों को उधार लिया गया है।
मॉर्निग वॉकर साइकिल चलाते हुए। ऐसे ही लोगों से इन साइकिलों को उधार लिया गया है।

शहर में 7 किमी की रैली, गड्‌ढों वाली सड़कों से परहेज
शहर के 7 किमी तक रैली निकाली जाएगी। यह रैली IG बंगला, सिविल लाइन, अग्रसेन चौक, पुराना बस स्टैंड, टैगोर चौक, गांधी चौक, गोलबाजार, सदर बाजार से रिवर व्यू तक जाएगी। इस बीच 9 जगहों पर PCC अध्यक्ष का कार्यकर्ता स्वागत करेंगे। कांग्रेसी इस बात का ध्यान रख रहे हैं कि अध्यक्ष मरकाम को ऐसे रास्तों पर न ले जाएं, जहां गड्ढे हैं। बारिश के कारण शहर की कई सड़कें धंस गई हैं। कई जगहों पर अमृत मिशन के तहत सीवरेज का भी काम चल रहा है। जिसके कार सड़कों की स्थिति खराब है।

साइकिल किस योजना की उससे क्या फर्क पड़ता है
कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने कहा कि केंद्र सरकार की नीतियों की वजह से देश में महंगाई चरम पर है। पेट्रोल के दाम 100 रुपए के पार जा चुके हैं। यही वजह है कि विरोध में साइकिल रैली निकाल रहे हैं। प्रदेश प्रवक्ता अभय राय कहते हैं कि लॉकडाउन के दौरान मॉर्निंग वॉकर्स के बीच साइकिल का इस्तेमाल बढ़ता हुआ देखा। ऐसे में साइकिल रैली की योजना बनाई। सरस्वती योजना में बच्चों को मिली साइकिल को लेकर बोले कि इससे क्या फर्क पड़ता है वह किस योजना से आईं हैं। साइकिल तो साइकिल ही होती हैं।

भाजपा ने रैली को नौटंकी और टूलकिट का हिस्सा बताया
दूसरी ओर भाजपा ने इसे नौटंकी बताया है। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकारें हैं, वहां के मुख्यमंत्रियों को राहुल गांधी क्यों नहीं महंगाई कंट्रोल करने को लेकर कोई निर्देश जारी करते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का काम केवल नौटंकी करना है। अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए वह हमेशा केंद्र सरकार को निशाना बनाते हैं। उन्होंने कहा कि महंगाई को लेकर कांग्रेस का प्रदर्शन भी टूल किट का ही हिस्सा है।

खबरें और भी हैं...