कोरोना से फिर एक थानेदार की मौत:विशेष शाखा में पदस्थ TI सुमित सोनवानी का निधन, कुछ दिन पहले मिले थे संक्रमित, कोरबा के अस्पताल में चल रहा था उपचार

​​​​​​​कोरबा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छत्तीसगढ़ के कोरबा में पुलिस ऑफिसर का कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया। - Dainik Bhaskar
छत्तीसगढ़ के कोरबा में पुलिस ऑफिसर का कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया।

फ्रंट लाइन वॉरियर कहे जाने वाले पुलिसकर्मियों की छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण से फिर मौतें शुरू हो गई हैं। अब सोमवार सुबह कोरबा में विशेष शाखा में पदस्थ TI सुमित सोनवानी (46) का निधन हो गया। वह कुछ दिन पहले संक्रमित मिले थे। उनका उपचार कोरबा के एक निजी अस्पताल में चल रहा था। दो दिन पहले जांजगीर में भी पामगढ़ थाना प्रभारी केपी टंडन का कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया था।

जानकारी के मुताबिक, मूल रूप से जांजगीर के परसाही गांव निवासी सुमित सोनवानी की कुछ दिन पहले रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उन्हें बिलासपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से दो दिन पहले ही बेहतर इलाज और मदद की आस में NKH कोसाबाड़ी में भर्ती किया गया था, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। उनके परिवार में पत्नी, दो पुत्रियां और एक पुत्र है। उनके निधन पर अफसरों ने दुख व्यक्त किया है।

मिलनसार, मददगार और सुलझे अधिकारी की थी छवि
सुमित सोनवानी अभी SP ऑफिस में विशेष शाखा में पदस्थ थे। इससे पहले कटघोरा वन बाकीमोंगरा थाना के प्रभारी रह चुके थे। इसके अलावा कुछ वर्षों के दौरान अल्प समय में ही उनकी तैनाती कोरबा जिले के विभिन्न थानों में रही थी। बताया जाता है कि सुमित सोनवानी एक सहृदय, मिलनसार, मददगार और सुलझे अधिकारी के रूप में जाने जाते थे। संभवत: अंतिम संस्कार के लिए उनके शव को गृहग्राम जांजगीर ले जाया जाएगा।

जांजगीर के पामगढ़ थाना प्रभारी का दो दिन पहले हुआ था निधन
इससे दो दिन पहले 24 अप्रैल को जांजगीर में पामगढ़ थाने के प्रभारी SI केपी टंडन (56) का कोरोना संक्रमण के चलते निधन हो गया था। वह करीब 14 दिनों पहले पॉजिटिव मिले थे। इसके बाद से ही बिलासपुर के अस्पताल में उनका उपचार चल रहा था। केपी टंडन की 9 अप्रैल को तबीयत बिगड़ी थी। इस दौरान वे अपने बिलासपुर के मल्हार स्थित घर में ही थे। अस्पताल में भर्ती होने के दौरान से ही उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी।

खबरें और भी हैं...