पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Chhattisgarh Fights Coronavirus: Children's Oxygen Support Beds Reserve In Surajpur Community Health Centers

कोविड के 'चाइल्ड' संक्रमण से लड़ने की तैयारी:​​​​​​​सूरजपुर में सभी CHC के 10-10 बेड बच्चों के लिए रिजर्व, दोनों MCH में 150 बेड होंगे ऑक्सीजन सपोर्ट वाले; रायपुर के डॉक्टर देंगे ट्रेनिंग

​​​​​​​सूरजपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
MCH सूरजपुर में 100 और और MCH भैयाथान में 50 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था की जाएगी। - Dainik Bhaskar
MCH सूरजपुर में 100 और और MCH भैयाथान में 50 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था की जाएगी।

कोरोना संक्रमण की दो लहर बुजुर्ग और युवाओं पर भारी पड़ चुकी है। अब आशंका जताई जा रही है कि तीसरी लहर बच्चों को प्रभावित कर सकती है। ऐसे में छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में इससे निपटने की तैयारी शुरू हो गई है। सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (CHC) में 20 में से 10-10 बेड बच्चों के लिए रिजर्व कर दिए गए हैं। वहीं जिले में स्थित दोनों मातृ शिशु अस्पताल (MCH) में 150 बेड पर ऑक्सीजन सपोर्ट सिस्टम की व्यवस्था की जा रही है।

कलेक्टर डॉ. गौरव कुमार सिंह बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के अफसरों की समीक्षा बैठक ले रहे थे। इस दौरान उन्होंने कोरोना संभावित तीसरी लहर को देखते हुए 5 चीजें स्वास्थ्य-गत अव-संरचना, मानव संसाधन, दवाएं, प्रशिक्षण और प्रचार-प्रसार को लेकर डॉक्टरों से प्लानिंग करने को कहा है। जिससे जमीनी स्तर पर पूरा किया जा सके। स्वास्थ्य अव-संरचना के तहत स्थान का चयनित कर ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था कर ली गई है।

डॉक्टरों और नर्सों की शुरू होगी भर्ती की प्रक्रिया

  • MCH सूरजपुर में 100 और और MCH भैयाथान में 50 ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था की जाएगी। सभी CHC के 10-10 बेड बच्चों के लिए आरक्षित रहेंगे।
  • MCH सूरजपुर में 5 वैंटिलेटर, रेडियंट वार्मर, 10 ICU और 10 HDU की भी व्यवस्था की जाएगी।
  • मानव संसाधन के लिए डॉक्टरों और नर्सों की भर्ती की प्रक्रिया की जाएगी।
  • अलग-अलग वर्गों के बच्चों के लिए अलग-अलग उम्र के अनुसार मेडिसिन किट बनाए जाएंगे।
  • डॉक्टरों, नर्सों, मितानिन, सचिव, सरपंच, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं, सुपरवाइजर और जन प्रतिनिधियों को ट्रेनिंग दी जाएगी।

ट्रेनिंग के लिए रायपुर के बालगोपाल अस्पताल से जाएंगे डॉक्टर
कलेक्टर डॉ. सिंह ने रायपुर के बालगोपाल हॉस्पिटल के डॉ. भट्टर से बात कर उनकी टीम को सूरजपुर आकर प्रशिक्षण देने के लिए कहा है। वे जल्द ही टीम के साथ डॉक्टरो को वैंटिलेटर, बाइ-पेप, सी-पेप आदि संचालित करने की ट्रेनिंग देंगे। इसके अतिरिक्त जागरूकता फैलाने के लिए पंपलेट्स, वीडियो, वॉल राइटिंग, सोशल मीडिया आदि के माध्यम से अभियान चलाए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...