• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Chhattisgarh Gaurela Pendra Marwahi District 11 Year Old Boy Body Found In Pieces With Missing Head | Chhattisgarh Crime News

11 साल के बच्चे की सिर काटकर हत्या:धड़ से 20 मीटर दूर मिला सिर, पैर भी काट दिए थे, सड़ी-गली हालत में मिला शव; 10 दिन से लापता था बच्चा

गौरेला9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गौरेला थाना प्रभारी युवराज तिवारी ने बताया कि बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। एक नाबालिग को संदेह के आधार पर पकड़ा है। - Dainik Bhaskar
गौरेला थाना प्रभारी युवराज तिवारी ने बताया कि बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। एक नाबालिग को संदेह के आधार पर पकड़ा है।

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले में 11 साल के एक बच्चे की निर्ममता से हत्या कर दी गई। हत्यारे ने बच्चे का सिर धड़ से अलग कर दिया और उसके पैर भी काट डाले थे। बच्चे का सिर शव से करीब 20 मीटर दूर पड़ा मिला। पुलिस ने सड़ी-गली हालत में बुधवार दोपहर मुरुम खदान के पास से उसकी लाश बरामद की है। बच्चा 10 दिन से लापता था। पुलिस ने इस मामले में एक नाबालिग को हिरासत में लिया है। मामला गौरेला थाना क्षेत्र का है।

कुछ लोगों को बदबू आई तो वे खदान के पास देखने गए। वहां सड़क से करीब 150 मीटर दूर बच्चे का सिर कटा शव पड़ा था।
कुछ लोगों को बदबू आई तो वे खदान के पास देखने गए। वहां सड़क से करीब 150 मीटर दूर बच्चे का सिर कटा शव पड़ा था।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम पंचायत सारबहारा के बहेलिया टोला में मुरुम खदान है। वहां रेलवे की संपत्ति है। बताया जा रहा है कि बुधवार दोपहर को कुछ लोगों को बदबू आई तो वे खदान के पास देखने गए। वहां सड़क से करीब 150 मीटर दूर बच्चे का सिर कटा शव पड़ा था। इस पर पुलिस को सूचना दी गई। बच्चे का सिर मिलने पर शव की शिनाख्त कराई गई तो उसकी पहचान बहेलिया टोला निवासी देवेंद्र पाव उर्फ दद्दू (11) पुत्र ज्ञान सिंह पाव के रूप में हुई।

बच्चे का सिर शव से करीब 20 मीटर दूर पड़ा मिला। वहीं बच्चे की चप्पल भी पड़ी थी।
बच्चे का सिर शव से करीब 20 मीटर दूर पड़ा मिला। वहीं बच्चे की चप्पल भी पड़ी थी।

मुर्गी फार्म में साफ-सफाई और दाना देने का करता था काम

पुलिस पूछताछ में पता चला है कि देवेंद्र वहीं पास में ए-वन टेलर्स के मुर्गी फार्म में साफ-सफाई और मुर्गियों को दाना देने का काम करता था। ज्ञान सिंह को उसने बताया था कि देवेंद्र काम पर नहीं आ रहा है। इसके बाद से परिजन उसकी तलाश कर रहे थे। हालांकि बच्चे की गुमशुदगी को लेकर FIR नहीं दर्ज कराई गई थी। फिलहाल बच्चे की हत्या के पीछे का कोई कारण स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ कर रही है।

बच्चे की हत्या के बाद पूरे परिवार का रो-रो कर बुरा हाल है। मां और बहन सदमे में है।
बच्चे की हत्या के बाद पूरे परिवार का रो-रो कर बुरा हाल है। मां और बहन सदमे में है।

परिवार सदमे में, नाबालिग संदेही हिरासत में

बच्चे की हत्या के बाद पूरे परिवार का रो-रो कर बुरा हाल है। मां और बहन सदमे में है। बेहद गरीब परिवार से आने वाले बच्चे की इतनी बुरी तरह से हत्या करना किसी की समझ में नहीं आ रहा है। वहीं गौरेला थाना प्रभारी युवराज तिवारी ने बताया कि बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद हत्या कैसे की गई, यह जानकारी मिल सकती है। फिलहाल एक नाबालिग को संदेह के आधार पर पकड़ा है।

खबरें और भी हैं...