जशपुर में स्टील प्लांट लगाने पर बवाल:भाजपा नेता को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, भड़के व्यापारियों ने बाजार बंद कर NH-43 जाम किया; एक घंटे बाद छुड़ाकर लाई पुलिस

जशपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांसाबेल में मां कुदरगढ़ी स्टील एंड पॉवर प्लांट की स्थापना को लेकर व्यापारी एकजुट हैं। समर्थन में बैनर भी लगा रखा है। वहीं ग्रामीण विरोध कर रहे हैं। कथित तौर पर 10 पंचायतों के लोगों ने कांसाबेल से व्यापारिक संबंध तोड़ लिए हैं। - Dainik Bhaskar
कांसाबेल में मां कुदरगढ़ी स्टील एंड पॉवर प्लांट की स्थापना को लेकर व्यापारी एकजुट हैं। समर्थन में बैनर भी लगा रखा है। वहीं ग्रामीण विरोध कर रहे हैं। कथित तौर पर 10 पंचायतों के लोगों ने कांसाबेल से व्यापारिक संबंध तोड़ लिए हैं।

छत्तीसगढ़ के जशपुर स्थित टांगरगांव स्टील प्लांट को लेकर हंगामा बढ़ता जा रहा है। अब इस पर व्यापारी और ग्रामीण आमने-सामने हो गए हैं। गुरुवार को ग्रामीणों ने प्लांट मालिक के रिश्तेदार भाजपा नेता और राम गर्ग को बंधक बना लिया। इसके बाद व्यापारी भड़क गए। उन्होंने भी बाजार बंद कर दिए और नेशनल हाईवे-43 पर जाम लगा दिया। सूचना मिलने पर कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। करीब एक घंटे बाद भाजपा नेता की रिहाई हुई तो व्यापारियों ने भी जाम खत्म किया।

भाजपा नेता को बंधक बनाने की खबर फैली तो व्यापारियों ने भी हंगामा कर दिया। कांसाबेल में दुकानें बंद कर दी और NH-43 पर जाम लगा दिया।
भाजपा नेता को बंधक बनाने की खबर फैली तो व्यापारियों ने भी हंगामा कर दिया। कांसाबेल में दुकानें बंद कर दी और NH-43 पर जाम लगा दिया।

दरअसल, कांसाबेल के टांगरगांव में ग्रामीण स्टील प्लांट लगाने का विरोध कर रहे हैं। इसको लेकर धरना-प्रदर्शन भी किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने गुरुवार को प्लांट मालिक के रिश्तेदार भाजपा नेता और व्यापारी राम गर्ग को बातचीत के लिए बुलाया था। वहां उन्हें रोक लिया गया। भाजपा नेता को बंधक बनाने की खबर व्यापारियों में फैली तो उन्होंने भी हंगामा कर दिया। कांसाबेल के व्यापारियों ने दुकानें बंद कर दी और NH-43 पर जाम लगा दिया।

सूचना मिलने पर कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। करीब एक घंटे बाद भाजपा नेता की रिहाई हुई तो व्यापारियों ने भी जाम खत्म किया।
सूचना मिलने पर कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। करीब एक घंटे बाद भाजपा नेता की रिहाई हुई तो व्यापारियों ने भी जाम खत्म किया।

ग्रामीणों को समझाकर भाजपा नेता को छुड़ाया, व्यापारी भी हटे

हाईवे पर जाम की सूचना मिलते ही कई थानों की फोर्स को मौके पर रवाना किया गया। पुलिस ने उन्हें हटाने का प्रयास किया, लेकिन वे मानने को तैयार नहीं थे। व्यापारी लगातार नारेबाजी करते रहे और कासाबेल चौक के पास ही डटे थे। उनकी मांग थी कि भाजपा नेता को छोड़ा जाए। स्थानीय व्यापारी और कांग्रेस नेता हंसराज अग्रवाल ने भी कहा, विरोध अधिकार है, लेकिन ऐसा तरीका गलत है। इसके बाद पुलिस किसी तरह ग्रामीणों को समझाकर भाजपा नेता को वहां से छुड़ाकर लाई। इसके बाद व्यापारी भी शांत हुए।

ग्रामीणों ने गुरुवार को प्लांट मालिक के रिश्तेदार भाजपा नेता और व्यापारी राम गर्ग को बातचीत के लिए बुलाया था। वहां उन्हें रोक लिया गया।
ग्रामीणों ने गुरुवार को प्लांट मालिक के रिश्तेदार भाजपा नेता और व्यापारी राम गर्ग को बातचीत के लिए बुलाया था। वहां उन्हें रोक लिया गया।

व्यापारियों ने प्लांट के समर्थन में बैनर लगाए, 10 पंचायतों ने संबंध तोड़े

कांसाबेल में तनाव का कारण मां कुदरगढ़ी स्टील एंड पॉवर प्लांट है। इसकी स्थापना को लेकर व्यापारी एकजुट हैं। उन्होंने समर्थन में बैनर भी लगा रखा है। वहीं ग्रामीण इसका विरोध कर रहे हैं। कथित तौर पर 10 पंचायतों के लोगों ने कांसाबेल से व्यापारिक संबंध तोड़ लिए हैं। ग्रामीणों ने लाठी-डंडे से लैस होकर गांवों में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। फिलहाल पुलिस-प्रशासन इलाके में शांति बहाल करने का प्रयास कर रहा है। इसके लिए पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

खबरें और भी हैं...