• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Chhattisgarh Lockdown | Lockdown In Rajnandgaon After Bemetra And Durg As Coronavirus Cases Surge In Chhattisgarh District

दो जिलों में आंशिक लॉकडाउन:​​​​​​​राजनांदगांव में अब सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक खुलेंगी दुकानें; धमतरी में 12 घंटे के लिए सब रहेगा बंद

राजनांदगांव/धमतरी/कोरबा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना संक्रमण के चलते जिला प्रशासन ने लिया निर्णय, राजनांदगांव में फैक्ट्रियों को छूट
  • धमतरी में 5 अप्रैल और राजनांदगांव में 4 अप्रैल से लागू होगा आदेश, ढाबों को 4 घंटे की छूट

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण का दायरा बढ़ने के साथ सख्ती भी बढ़नी शुरू हो गई है। दुर्ग और बेमेतरा के बाद अब राजनांदगांव में भी लॉकडाउन कर दिया गया है। हालांकि यह आंशिक तौर पर है। दुकानों को सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है। हालांकि फैक्ट्री और औद्योगिक प्रतिष्ठान इससे बाहर रहेंगे। वहीं धमतरी में नाइट कर्फ्यू को 8 घंटे से बढ़ाकर 12 घंटे का कर दिया गया है।

यह तस्वीर राजनांदगांव की है। शनिवार को कोरोना संक्रमण के चलते 4 मरीजों की मौत हो गई। ऐसे में उनका अंतिम संस्कार एक साथ किया गया।
यह तस्वीर राजनांदगांव की है। शनिवार को कोरोना संक्रमण के चलते 4 मरीजों की मौत हो गई। ऐसे में उनका अंतिम संस्कार एक साथ किया गया।

राजनांदगांव : दूध-डेयरी वालों को 2 घंटे की मिलेगी अतिरिक्त छूट
जिले में पहले से नाइट कर्फ्यू जारी है। इसमें रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक बंद करने आदेश थे। अब इसका समय 5 घंटे और बढ़ा दिया गया है। इसके तहत अब दुकानें सिर्फ सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक ही खुलेंगी। हालांकि दुग्ध विक्रेताओं को शाम 6 से 8 बजे तक अतिरिक्त छूट दी गई है। वहीं आपातकालीन सेवाएं इस बंद से बाहर रहेंगी। जिला प्रशासन ने बताया कि कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए आगे निर्णय लिया जाएगा। आदेश 4 अप्रैल से प्रभावी होगा।

धमतरी में जिला प्रशासन ने 5 अप्रैल से 12 घंटे का लॉकडाउन कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि जिले की सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान शाम 6 से सुबह 6 बजे तक बंद रहेंगे।
धमतरी में जिला प्रशासन ने 5 अप्रैल से 12 घंटे का लॉकडाउन कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि जिले की सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान शाम 6 से सुबह 6 बजे तक बंद रहेंगे।

धमतरी : ढाबे शाम 6 से रात 10 बजे तक खुलेंगे, लेकिन बिठाने की अनुमति नहीं
वहीं धमतरी में जिला प्रशासन ने 5 अप्रैल से 12 घंटे का लॉकडाउन कर दिया है। आदेश में कहा गया है कि जिले की सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान शाम 6 से सुबह 6 बजे तक बंद रहेंगे। इस दौरान आवश्यक सेवाएं प्रतिबंध से मुक्त रहेंगी। फिलहाल आदेश 13 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। जिले की सभी ढाबे व भोजनालय शाम 6 से रात 10 बजे तक खुल सकेंगे। इस दौरान सिर्फ पार्सल की अनुमति रहेगी। इसमें ठेला वाले शामिल नहीं हैं।

कोरबा में बैंड-बाजा और कैटरिंग व्यवसाय से जुड़े लोगों ने प्रदर्शन किया। यह सभी धारा-144 का विरोध कर रहे हैं।
कोरबा में बैंड-बाजा और कैटरिंग व्यवसाय से जुड़े लोगों ने प्रदर्शन किया। यह सभी धारा-144 का विरोध कर रहे हैं।

कोरबा : धारा-144 के विरोध में बैंड-बाजा और कैटरिंग वालों का प्रदर्शन
दूसरी ओर कोरबा में धारा-144 के विरोध में शनिवार को बैंड-बाजा और कैटरिंग व्यवसाय से जुड़े लोगों ने प्रदर्शन किया। उनका कहना था कि धारा-144 लागू होने के बाद से उनका व्यवसाय ठप हो गया है। व्यवसाय से जुड़े सभी लोग बड़ी संख्या में कलेक्ट्रेट के बाहर एकत्र हो गए और घेराव करते हुए प्रदर्शन करने लगे। इसके बाद परिवार सहित सड़क पर चक्का जाम कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। सहयोग नहीं करने पर आत्मदाह की चेतावनी दी है।

तीनों जिलों में कोरोना की स्थित

जिलाएक्टिव केसकुल संक्रमितमौतठीक हुए
राजनांदगांव22032301620220611
धमतरी67093531448539
कोरबा59910806613717330
खबरें और भी हैं...