कपड़े उतारकर खंभे से बांधा और बेदम पीटा:कोरबा में खदान कंपनी के सिक्योरिटी गार्ड ने 2 लोगों को चोरी के शक में लाठी-डंडे से पीटा; बेहोश होने पर सड़क किनारे फेंका

कोरबा3 महीने पहले
पुलिस ने 2 सिक्योरिटी गार्ड और उसके दो साथियों के खिलाफ FIR दर्ज की है, लेकिन अर्धनग्न करने और बंधक बनाने का केस दर्ज नहीं किया है।

कोरबा में खदान कंपनी के सिक्योरिटी गार्डों ने अधेड़ सहित दो लोगों को खंभे से बांधकर अर्धनग्न कर दिया। इसके बाद लाठी-डंडों से उनकी जमकर पिटाई की। दोनों छोड़ देने की गुहार लगाते रहे, लेकिन सिक्योरिटी गार्ड ने एक नहीं सुनी। मारपीट का वीडियो भी बनाया। जब दोनों बेहोश हो गए तो रात को उठाकर सड़क किनारे फेंक आए। सिक्योरिटी गार्डों ने उन्हें चोरी के शक में पकड़ा था। होश में आने के बाद कुसमुंडा थाने में FIR दर्ज कराई है।

जानकारी के मुताबिक, दुरपा रोड फोकटपारा निवासी सुभाषराम सिदार मजदूरी करता है। वह विश्वकर्मा जयंती पर 17 सितंबर को दर्शन करने के लिए कुसमुंडा खदान के नया शैलो के पास एंडम गया था। वहां से दर्शन कर रेलवे लाइन के किनारे पट्टा लाइन से होते हुए पैदल घर लौट रहा था। इसी दौरान सामंता कंपनी के दो सुरक्षाकर्मी पहुंच गए। आरोप है कि वे सुभाष को पकड़ कर कंपनी के ऑफिस में ले गए। वहां पहले से कुछ लोग मौजूद थे।

अधेड़ सहित दो लोगों को खंभे से बांधकर अर्धनग्न कर दिया। इसके बाद जमकर पिटाई की।
अधेड़ सहित दो लोगों को खंभे से बांधकर अर्धनग्न कर दिया। इसके बाद जमकर पिटाई की।

लोहा चोरी करने का आरोप लगाया और रस्सी से खंभे में बांध दिया
सुभाष राम ने पुलिस को बताया कि ऑफिस में बैठे लोगों ने उस पर लोहा चोरी करने का आरोप लगाया और गालियां देकर पीटने लगे। उसने खदान में आने का कारण बताया, लेकिन वे नहीं माने। उसे रस्सी से खंभे में बांध दिया। वहां एक अन्य व्यक्ति को भी खंभे से बांध रखा था। आरोप है कि सिक्योरिटी गार्डों ने दोनों के कपड़े फाड़ दिए और नग्न कर डंडे से पीटना शुरू कर दिया। दोनों पर चोरी की वारदात कबूल करने का दबाव बनाने लगे।

वीडियो बनाया, अश्लील हरकत भी की
सुभाष राम और एक अन्य जब सिक्योरिटी गार्ड पीट रहे थे, उसी समय उनके अन्य साथियों ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया। इस दौरान गार्डों ने अश्लील हरकत भी की। वीडियो में दिख रहा है कि 3 सिक्योरिटी गार्ड वर्दी में हैं, जबकि एक सादे कपड़ों में था। सुभाष उनसे बेगुनाह होने की बात कहते हुए छोड़ने की गुहार लगा रहा है, लेकिन सुरक्षाकर्मी लगातार उसे पीट रहे हैं। पिटाई से बेसुध होने के बाद दोनों को वैशालीनगर पेट्रोल पंप के पास छोड़ गए।

आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज, एक डर से ही सामने नहीं आया
सिक्योरिटी गार्डों ने पीटने के बाद पुलिस में रिपोर्ट करने पर जान से मारने की धमकी दी। किसी तरह सुभाष वहां से घर पहुंचा और घटना की जानकारी परिजन व पड़ोसियों को दी। इसके बाद सभी थाने पहुंचे और मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने 2 सिक्योरिटी गार्ड और उनके दो साथियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। हालांकि अर्धनग्न कर मारपीट करने और बंधक बनाने का केस दर्ज नहीं किया गया है। वहीं दूसरा पीड़ित इतना डरा हुआ है कि वह सामने ही नहीं आ रहा।

खबरें और भी हैं...