अवैध संबंधों ने करा दी हत्या:गरियाबंद में महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मार डाला; सास के पूछने पर शादी में जाने की बात कही

गरियाबंद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में घर के पीछे मिली युवक की लाश मामले में पुलिस ने उसकी पत्नी और पड़ोसी को गिरफ्तार किया है। अवैध संबंध के चलते उसकी हत्या की गई। - Dainik Bhaskar
छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में घर के पीछे मिली युवक की लाश मामले में पुलिस ने उसकी पत्नी और पड़ोसी को गिरफ्तार किया है। अवैध संबंध के चलते उसकी हत्या की गई।
  • छुरा क्षेत्र में एक दिन पहले ही घर के पीछे मिला था 5 दिन से लापता युवक का शव
  • कुत्तों के नोचने और बदबू के चलते लोगों को शक हुआ तो पता चला, आरोपी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में रविवार को घर के पीछे मिट्टी में दबे मिले शव की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। युवक की हत्या अवैध संबंधों के चलते उसकी ही पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर की थी। युवक ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। युवक पांच दिन से लापता था। मामला छुरा थाना क्षेत्र का है।

रविवार सुबह एक चरवाहे की नजर कुत्तों पर पड़ी जो शव को नोच रहे थे। उसने लोगों को लाश के बारे में बताया।
रविवार सुबह एक चरवाहे की नजर कुत्तों पर पड़ी जो शव को नोच रहे थे। उसने लोगों को लाश के बारे में बताया।

पड़ोसी से अवैध संबंधों के चलते पति को मार दिया
जानकारी के मुताबिक, छुरा निवासी जय प्रकाश अग्रवाल 29 दिसंबर को लापता हो गया था। सुमन ने अपनी सास को उसके शादी में जाने की बात बताई थी। पांच दिनों बाद रविवार को गुमशुदगी दर्ज कराई गई और उसी दिन घर के पीछे जय प्रकाश का शव मिल गया। इसके बाद पुलिस ने जांच कर सुमन और उसके पड़ोसी देवराज उर्फ गोलू साहू को गिरफ्तार कर लिया। सुमन के उससे अवैध संबंध थे।

महीने भर पहले जयप्रकाश ने दोनों को देखा था आपत्तिजनक हालत में
पुलिस ने बताया कि महीनेभर पहले जयप्रकाश ने सुमन और देवराज को आपत्तिजनक हालत में भी देख लिया था। 29 दिसंबर को नशे में धुत जयप्रकाश ने देवराज को अपने घर बुलाया और फटकार लगाई। इसके बाद देवराज ने सुमन के साथ मिलकर जय प्रकाश का गला दबा दिया। रात में शव को छत पर ले जाकर घर के पीछे फेंक दिया और साड़ी और बोरे से ढंककर पत्थर रख दिए।

चरवाहे ने शव देखा तो खुला मामला
रविवार सुबह एक चरवाहे की नजर कुत्तों पर पड़ी जो शव को नोच रहे थे। उसने लोगों को लाश के बारे में बताया। जय प्रकाश की बाइक और मोबाइल गायब थे। परिजनों के बयान और सुमन के बयान में अंतर होने के कारण पुलिस का शक पुख्ता हो गया। आरोपियों ने हत्या के बाद उसकी बाइक और मोबाइल दूर ले जाकर फेंक दिया था। पुलिस ने उसे भी बरामद कर लिया है।