पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला:​​​​​​​बीजापुर में IED ब्लास्ट की चपेट में आकर हेड कांस्टेबल शहीद, एक कांस्टेबल घायल; एरिया डोमिनेशन के लिए निकली थी टीम

​​​​​​​बीजापुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में IED ब्लास्ट की चपेट में आकर मंगलवार को जिला पुलिस बल के एक हेड कांस्टेबल शहीद हो गए। जबकि एक कांस्टेबल घायल हुए हैं। उन्हें उपचार के लिए कैंप के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं शहीद जवान के शव को अभी जिला मुख्यालय नहीं लाया गया है। मामला कुटरू थाना क्षेत्र का है। SDOP शेर बहादुर सिंह ठाकुर ने घटना की पुष्टि की है।

कुटरू क्षेत्र के अंबेली गांव में जवान IED की चपेट में आ गए। ब्लास्ट के चलते नारायणपुर निवासी हेड कांस्टेबल कालेंद्र कुमार नायक शहीद हो गए।
कुटरू क्षेत्र के अंबेली गांव में जवान IED की चपेट में आ गए। ब्लास्ट के चलते नारायणपुर निवासी हेड कांस्टेबल कालेंद्र कुमार नायक शहीद हो गए।

जानकारी के मुताबिक, जिला पुलिस के जवान एरिया डोमिनेशन के लिए निकले थे। इस दौरान कुटरू क्षेत्र के अंबेली गांव में जवान IED की चपेट में आ गए। ब्लास्ट के चलते नारायणपुर निवासी हेड कांस्टेबल कालेंद्र कुमार नायक शहीद हो गए। जबकि एक अन्य कांस्टेबल कमल ठाकुर घायल हैं। बताया जा रहा है कि गांव के अंतिम घर के पास पुल से पहले ही नक्सलियों ने IED प्लांट कर रखा था।

छत्तीसगढ़ में मुठभेड़ पर उठे सवाल:गांववालों का आरोप- नक्सली नहीं, जवानों ने फायरिंग की थी; 9 लोग मारे गए, कई घायल

सुकमा-बीजापुर बॉर्डर पर हुए एनकाउंटर को लेकर विवाद
वहीं दूसरी ओर सुकमा-बीजापुर बार्डर पर सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ सवालों के घेरे में है। गांववालों का आरोप है कि वहां नक्सली थे ही नहीं। जवानों ने फायरिंग की थी। इसमें 9 लोग मारे गए, जबकि कई घायल हुए हैं। वहीं बस्तर IG सुंदरराज पी. ने दावा किया है कि फायरिंग में 3 लोगों की मौत हुई है। उनके शव भी बरामद हुए हैं। अभी उनकी शिनाख्त नहीं हो सकी है।

खबरें और भी हैं...