पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

साथी ने सरेंडर किया, तो सुनाया मौत का फरमान:​​​​​​​नक्सली 5 दिन पहले अगवा कर ले गए थे अपने साथ, 3 दिन बाद चकमा देकर भागा, सारी रात जंगल में दौड़ता रहा, सुबह पहुंचा थाने

दोरनापाल5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सरेंडर नक्सली रामकृष्ण ने पुलिस को बताया कि उसे अगवा करने के बाद मंडीमरका गांव में रखा था। वहीं नक्सली उसे मौत की सजा देने वाले थे। - Dainik Bhaskar
सरेंडर नक्सली रामकृष्ण ने पुलिस को बताया कि उसे अगवा करने के बाद मंडीमरका गांव में रखा था। वहीं नक्सली उसे मौत की सजा देने वाले थे।

छत्तीसगढ़ में मुख्य धारा में लौटने वाले अपने ही साथियों के नक्सली दुश्मन बन गए हैं। ऐसे लोग लगातार उनके निशाने पर हैं। बीजापुर में ऐसे ही नक्सली राह छोड़ चुके अपने साथी को नक्सलियों ने 5 दिन पहले अगवा कर लिया। उसकी मौत का फरमान भी सुनाया जा चुका था, लेकिन 3 दिन बाद वह चकमा देकर भाग निकला। सारी रात भागता हुआ शुक्रवार सुबह सुकमा जिले के थाने पहुंचा तो सारा मामला सामने आया।

जानकारी के मुताबिक, बीजापुर के बासागुड़ा निवासी रामकृष्ण मरकाम ने सरेंडर कर दिया था। बताया जा रहा है कि 6 जून को नक्सली उसे अगवा कर अपने साथ ले गए थे। वहां उसे मौत की सजा का फरमान भी सुना दिया गया। रामकृष्ण की नक्सली 11 जून को ही हत्या करना चाहते थे। इससे पहले 6 जून को वह अपने पुराने साथियों को चकमा देकर भाग निकला। सारी रात जंगल में दौड़ता रहा। सुबह सुकमा के जगरगुंडा थाने पहुंचा।

अगवा करने के बाद मंडीमरका गांव में रखा था

रामकृष्ण ने पुलिस को बताया कि उसे अगवा करने के बाद मंडीमरका गांव में रखा था। वहीं, उसे मौत की सजा देने की बात भी नक्सली कह रहे थे। इस दौरान वह मौका पाकर रात को भाग निकला। उसने भागने के लिए पहले से ही प्लान बनाना शुरू कर दिया था। थाने में उसने अपना परिचय दिया। इसके बाद अफसरों को सूचना दी गई है। फिलहाल अधिकारी उससे पूछताछ कर रहे हैं। उसे अभी थाने में ही रखा गया है।

एरिया कमांडर जगदीश ने सुनाई थी सजा

रामकृष्ण ने पुलिस को बताया कि उसे जगरगुंडा एरिया कमेटी के कमांडर जगदीश ने 11 जून को मौत की सजा देने का ऐलान किया था। इसके बाद से ही वह भागने को लेकर परेशान था। वहीं अफसरों का कहना है कि वह रामकृष्ण के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं। इस बारे में बीजापुर पुलिस से भी संपर्क किया गया है। फिलहाल उसके स्वास्थ्य की जांच कराई गई है। वह पूरी तरह से ठीक है।

खबरें और भी हैं...