पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना की गिरफ्त में कैदी:अब बलौदाबाजार उप जेल में 15 कैदी पॉजिटिव मिले, 14 कोविड सेंटर में भर्ती; प्रदेश में अब तक 200 से ज्यादा बंदी मिल चुके हैं संक्रमित

​​​​​​​बलौदाबाजारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जेलर अभिषेक मिश्रा ने बताया कि अन्य कैदियों को आइसोलेट कर दवाएं दी जा रही हैं।  - Dainik Bhaskar
जेलर अभिषेक मिश्रा ने बताया कि अन्य कैदियों को आइसोलेट कर दवाएं दी जा रही हैं। 

छत्तीसगढ़ में बढ़ते कोरोना संक्रमण अब जेल के अंदर भी पहुंच चुका है। अब बलौदा बाजार उप जेल में 15 कैदी पॉजिटिव मिले हैं। एक कैदी के संक्रमित मिलने के बाद जब बैरक में बंद अन्य की जांच कराई गई तो एक-एक कर सभी संक्रमित मिलने लगे। इनमें से एक को जिला कोविड अस्पताल और 14 को सकरी के कोविड सेंटर में भर्ती कराया गया है। वहीं संपर्क में आए अन्य कैदियों को भी आइसोलेट किया गया है।

जानकारी के मुताबिक, एक कैदी की तबीयत खराब होने पर उसका टेस्ट कराया गया था। 3 मई को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इस पर जेल प्रबंधन ने उसके संपर्क में आए दो अन्य बंदियों की भी जांच कराई गई तो वह भी संक्रमित मिले। इस पर अगले दिन बैरक में बंद सभी 55 कैदियों का टेस्ट कराया गया। इसमें से 12 पॉजिटिव मिले हैं। बाकी की जांच रिपोर्ट निगेटिव है। जेलर अभिषेक मिश्रा ने बताया कि अन्य कैदियों को आइसोलेट कर दवाएं दी जा रही हैं।

छत्तीसगढ़ में कोरोना की गिरफ्त में कैदी:जशपुर जिला जेल में 21 कैदी पॉजिटिव मिले, अब सभी की होगी जांच; प्रदेश भर में कोरोना से 251 मौतें

8 दिन में दुर्ग सहित 4 जेलों में मिले 138 कैदी मिल चुके हैं पॉजिटिव
प्रदेश की जेलों में कैदियों के पॉजिटिव मिलने का सिलसिला जारी है। पिछले 8 दिनों में ही दुर्ग के केंद्रीय कारागार सहित 4 जेलों में 138 कैदी पॉजिटिव मिल चुके हैं। जबकि 3 की मौत हो चुकी है। सप्ताह भर पहले जशपुर जेल में 21 कैदी संक्रमित मिले थे। फिर 3 दिन पहले दुर्ग सेंट्रल जेल में डॉ. एचएन चौबे सहित 27 कैदी पॉजिटिव पाए गए। उसी दिन राजनांदगांव के खैरागढ़ उप जेल में भी 75 कैदियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

कोरोना का जेलब्रेक:दुर्ग और खैरागढ़ जेल में 102 से ज्यादा कैदी पॉजिटिव, अभी तक तीन कैदी संक्रमण से दम तोड़ चुके हैं; दोनों जेलों में 2000 से अधिक बंदी

पिछले कुछ महीनों में हो चुकी 8 कैदियों की मौत
पिछले कुछ महीनों में रायपुर, दुर्ग की केंद्रीय जेलों और खैरागढ़ उप जेल में बंद 8 कैदियों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है। जेलों में संक्रमण के 200 से भी ज्यादा मामले सामने आए हैं। राज्य की सभी जेलों में क्षमता से अधिक कैदी हैं। डॉक्टरों का कहना है कि ऐसी बंद और भीड़ वाली जगहों में संक्रमण के फैलने का ज्यादा खतरा है। ऐसा होने पर बंदी रक्षकों पर भी प्रभाव पड़ सकता है।

खबरें और भी हैं...