पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिलाओं ने डंडा लेकर जुआरियों को दौड़ाया:महिला सरपंच ने कलेक्टर को लिखा- जंगलों में जुआ चल रहा है, संक्रमण का खतरा बढ़ा, इनसे गांव खाली कराएं

कोरबा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के कोरबा में जुआरियों के खिलाफ महिलाओं ने मोर्चा खोल दिया है। महिला सरपंच के नेतृत्व में तमाम ग्रामीण दो दिन पहले जंगल में उतर पड़े। हाथों में डंडा लिए इन ग्रामीणों ने जुआरियों को दौड़ा लिया। इस दौरान जुए की बिसात बिछवाए सरगना और ग्रामीणों के बीच जमकर विवाद भी हुआ। अब सरपंच ने कलेक्टर को पत्र लिखा है कि कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ा है। उनके गांव को जुआरियों से खाली कराएं।

दरअसल, कटघोरा के तुमान और रामभाटा जंगल में पिछले कई दिनों से जुए की फड़ लग रही थी। इसकी जानकारी ग्राम पंचायत लबेद की सरपंच चैतिन बाई को लगी तो वे महिलाओं और ग्रामीणों के साथ लाठियां लेकर जंगल में पहुंच गईं। अचानक इतने सारे लोगों को डंडे लिए आता देख जुआरियों में भगदड़ मच गई। इसके चलते जुआ खिलवा रहे व्यक्ति से विवाद भी हुआ। एक ग्रामीण ने वीडियो बनाने की कोशिश की तो उसे मना कर दिया।

बकरा भात और दारू के लिए 200 लोगों को किया जाता है एकत्र
हंगामा बढ़ता देख फिलहाल ग्रामीण शांत होकर वहां से लौट गए। इसके बाद सरपंच चैतिन बाई ने कलेक्टर को पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है कि तुमान और रामभाटा के जंगलों में जुआ चल रहा है। इसके चलते एक ओर जहां कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा है, वहीं गांव के युवा भी पथभ्रष्ट हो रहे हैं। वहां बकरा भात और दारू पार्टी करने लिए 200-250 लोगों को एकत्र कर जुआ खिलाया जाता है। विरोध करने पर गुंडागर्दी और धमकी दी जाती है।

खबरें और भी हैं...