पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दोस्त के साथ मिलकर अपने ही जीजा को लूटा:ससुराल से लौट रहा था युवक, रास्ते में गमछा लपेटकर चाकू की नोक पर 4.5 लाख रुपए छीने; 6 दिन बाद साले सहित 2 गिरफ्तार

जशपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोतवाली प्रभारी ओमप्रकाश ध्रुव ने बताया कि  संदेह के आधार पर राजेश्वर को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने विनय के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया। - Dainik Bhaskar
कोतवाली प्रभारी ओमप्रकाश ध्रुव ने बताया कि संदेह के आधार पर राजेश्वर को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने विनय के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया।

छत्तीसगढ़ के जशपुर में एक युवक को उसके ही साले ने अपने दोस्त के साथ मिलकर लूट लिया। युवक अपनी पैतृक जमीन बेचने के बाद रुपए लेकर ससुराल पहुंचा था। वहां से लौटने लगा तो रात में मुंह पर गमछा लपेटकर पहुंचा और चाकू की नोक पर रुपए छीनकर भाग निकला। डर के चलते युवक ने 4 दिन बाद FIR दर्ज कराई तो पुलिस ने शुक्रवार को साले सहित 2 आरेपियों को गिरफ्तार कर लिया। मामला कोतवाली क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम आरा निवासी रामसेवक राम ने अपनी पैतृक जमीन का सौदा 7 लाख रुपए में तय किया था। उसकी रजिस्ट्री के लिए 12 जून को पत्नी सुचिता बाई के साथ बोलेरो से जशपुर आया था। रजिस्ट्री के बाद उसे 6.12 लाख रुपए कैश और 88 हजार का चेक मिला था। इन रुपयों में से 12 हजार का मोबाइल खरीद लिया और 50 हजार रुपए बैंक खाते में जमा कर दिए। फिर शहर में ही अपने ससुराल में रुक गया और पत्नी को गांव भेज दिया।

जीजा-साले ने शराब पी, फिर गमछे में रुपए लपेट घर से निकला
ससुराल में राम सेवक ने अपने साले राजेश्वर के साथ शराब पी। पहां से रात करी 9 बजे नशे की हालत में गमछे में करीब साढ़े 4 लाख रुपए लपेट कर गम्हरिया में अपने फूफा के घर जाने निकल पड़ा। रास्ते में गम्हरिया पुल से आगे वनश्री के बोर्ड के पास पीछे से दो नकाबपोश युवक पहुंचे और रामसेवक की पीठ पर चाकू लगा दिया। फिर रुपए लपेटा हुआ गमछा छीनकर भाग निकले। मामला 4 दिन बाद 16 मई को थाने में दर्ज कराया गया।

घर के बाथरूम में छिपाई रकम, मंगेतर के पास बताकर उलझाया
पुलिस ने संदेह के आधार पर राजेश्वर को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की। इस पर उसने लूट की वारदात करना स्वीकार कर लिया। बताया कि लूटे रुपए आरा के अंदरूनी जंगली इलाके में स्थित एक गांव में अपनी मंगेतर के घर में छिपाए हैं। पुलिस वहां पहुंची तो पता चला कि उस नाम की लड़की ही गांव में नहीं रहती। इस पर पुलिस ने सख्ती की तो घर के बाथरूम में छिपाने की बात बताई। पुलिस ने वहां से 1.90 लाख रुपए बरामद कर लिए हैं।

हुलिए के आधार पर राजेश्वर पर शक हुआ तो उसे हिरासत में लिया
कोतवाली प्रभारी ओमप्रकाश ध्रुव ने बताया कि राम सेवक ने आरोपियों का जो हुलिया बताया था, वह उसके साले के साथ मैच कर रहा था। संदेह के आधार पर राजेश्वर को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो उसने विनय के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया। विनय को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं बाकी की रकम को लेकर उससे पूछताछ की जा रही है।

खबरें और भी हैं...