प्रदेश में 'यास' का असर:आज से नौतपा शुरू, पर आसमान में सूरज की लुकाछिपी; सरगुजा में 27 मई को बारिश और बिजली गिरने की संभावना, 3 ट्रेनें और रद्द

​​​​​​​बिलासपुर/सरगुजाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के कई जिलों में सुबह से ही 'यास' तूफान का असर दिखाई देने लगा है। मंगलवार से नौतपा शुरू हो गया है, लेकिन बिलासपुर, दुर्ग और सरगुजा सहित बस्तर के कई इलाकों में सूरज की लुका-छिपी का खेल जारी है। तेज हवाएं चल रही हैं। वहीं सरगुजा जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। 27 मई को तेज हवाओं के साथ बारिश और बिजली गिरने की संभावना जताई गई है।

'यास' 2 किमी प्रति घंटे की गति के साथ बंगाल की पूर्वी-मध्य खाड़ी के ऊपर उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ गया है। इसके बाद यह चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। इसके 26 मई को करीब 10.30 से 12.30 बजे पारादीप और सागर द्वीप के बीच उत्तर ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों को पार करने की आशंका है। इसके कारण प्रदेश में ओडिशा और झारखंड से लगे जिलों में 26 से 29 मई तक बारिश हो सकती है। मुख्यतः 27 मई को इसका प्रभाव ज्यादा रहेगा।

प्रदेश में 26 से 'यास' का असर:ओडिशा और झारखंड से लगे महासमुंद, जशपुर, जगदलपुर जैसे जिलों में ज्यादा प्रभाव, 29 मई तक तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की चेतावनी

सरगुजा में तेज हवाओं और बारिश से नुकसान की आशंका
चक्रवाती तूफान को देखते हुए सरगुजा जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। इसमें कहा गया है कि 27 को तूफान के सरगुजा पहुंचने की संभावना है। ऐसे में तेज हवाओं के साथ बारिश और बिजली गिर सकती है। इससे जान-माल के नुकसान की भी आशंका है। इसके चलते विद्युत, जल संसाधन, स्वास्थ्य, नगर पालिका, नगर सेना, PHED विभाग के अफसरों को पत्र भेजा गया है। इसमें व्यापक तैयारी के आदेश दिए गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री भी तूफान को लेकर दे चुके हैं चेतावनी
दो दिन पहले ही स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने भी तूफान को लेकर चेतावनी दे चुके हैं। कांग्रेस नेताओं के साथ हुई वर्चुअल मीटिंग में उन्होंने जिला प्रशासन के साथ सहयोग करने और तैयारियों की समीक्षा की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि झारखंड से लगा होने के कारण सरगुजा संभाग में असर पड़ सकता है। वहीं सरगुजा, बलरामपुर, जशपुर और सूरजपुर के लोगों से अलर्ट रहने के लिए कहा था।

'यास' ने रोकी 28 ट्रेनों की रफ्तार:हावड़ा-अहमदाबाद, पुणे, कामख्या सहित 11 ट्रेनें कैंसिल, आज से 30 मई तक प्रभावित रहेगा सफर

चक्रवात के चलते दक्षिण-पूर्व रेलवे ने 3 ट्रेनों को और रद्द किया
ओडिशा और बंगाल की खाड़ी में संभावित चक्रवात 'यास' की चेतावनी के मद्देनजर दक्षिण पूर्व रेलवे से संबंधित कई गाड़ियों को रद्द किया जा रहा है। अब एक बार फिर तीन ट्रेनें निरस्त की गई हैं।

  • 28 मई को अहमदाबाद से पुरी के लिए छूटने वाली 08406 अहमदाबाद-पूरी स्पेशल
  • 29 मई को जोधपुर से पुरी के लिए छूटने वाली 02094 जोधपुर- पूरी स्पेशल
  • 30 मई को पुरी से सूरत के लिए छूटने वाली 02827 पुरी-सूरत स्पेशल

नौतपा शुरू, लेकिन इस बार असर कम ही रहेगा
नौतपा भी मंगलवार से शुरू हो गया है। इसके कारण गर्मी बढ़ी है, लेकिन सूरज की आंख मिचौली ने उमस जैसा माहौल बना दिया है। ऐसे में संभावना है कि इस बार इसका असर फीका ही रहने वाला है। यास के कारण 26 से 29 मई को आसमान में बादल छाए रहेंगे। कुछ स्थानों पर हल्की और मध्यम बारिश भी हो सकती है। इस बार तापमान 40 डिग्री से ऊपर अभी तक नहीं गया है। यह सिस्टम अप्रैल से ही बना हुआ है, इसके चलते गर्मी ज्यादा नहीं पड़ रही।

खबरें और भी हैं...