पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Demand To Use Stomach Scanner Machine For Covid 19 Patients Kept In Ambedkar Hospital Raipur; Chhattisgarh High Court On Bhupesh Baghel Government

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पर्दे में स्कैनर मशीन, कोर्ट में याचिका:रायपुर के मेकाहारा में 2 साल से धूल खा रही 18 करोड़ की पेट स्कैनर मशीन, कोविड मरीजों के लिए इस्तेमाल की मांग; हाईकोर्ट ने शासन से मांगा जवाब

​​​​​​​बिलासपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण के बीच जद्दोजहद करने के कई मामलों को लेकर छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में जनहित याचिकाएं दायर हैं। ऐसे में रायपुर के मेकाहारा (डॉ. भीमराव अंबेडकर मेमोरियल अस्पताल) में पर्दे में दो साल से ढंकी 18 करोड़ की पेट स्कैनर मशीन को लेकर याचिका दायर की गई है। याचिका में कहा गया है कि इस मशीन का उपयोग कोविड मरीजों के लिए किया जाए। कोर्ट ने इस मामले में सरकार से दो दिन में जवाब मांगा है।

रायपुर निवासी सुमित अटवानी ने अधिवक्ता अभ्युदय सिंह के माध्यम से हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। इसमें कहा गया है कि कैंसर पीड़ित मरीजों के लिए फरवरी 2019 में अस्पताल की कैंसर यूनिट में पेट स्कैनर मशीन का पूरा सेटअप तैयार किया गया था। इसके बाद से लेकर आज तक इसका कोई उपयोग कैंसर के मरीजों के लिए नहीं हुआ। अब न ही इसका इस्तेमाल कोविड मरीजों को सुविधा देने के लिए किया जा रहा है।

रायपुर में 8 CT स्कैनर मशीन, कैंसर यूनिट में लगी मशीन का उपयोग हो

हाईकोर्ट चीफ जस्टिस की डिवीजन बेंच में दायर याचिका में मशीन का उपयोग CT स्कैन की तरह कोविड पेशेंट के लिए किए जाने की मांग की गई है। याचिका में यह भी कहा गया है कि पूरे रायपुर में केवल 8 ही CT स्कैनर मशीनें हैं। इस मशीन की कमी को देखते हुए पेट स्कैनर मशीन का उपयोग किया जा सकता है। मामले की सुनवाई के बाद डिवीजन बेंच ने शासन से जवाब मांगा है। इसकी अगली सुनवाई शुक्रवार हो होगी।

क्या है पेट स्कैनर मशीन

पेट स्कैनर मशीन सीटी स्कैन और MRI से अधिक एडवांस है, जोकि सटीकता से बीमारी को डायग्नोस करती है। मशीन के जरिए हुई स्कैनिंग से साफ हो जाता है कि कैंसर की मुख्य वजह क्या है, कहां और कितना फैल चुका है। मेडिकल की भाषा में कहें तो इसके इस्तेमाल से बायोलॉजिकल डिसीज का पता चलता है।

रेडियोथेरेपिस्ट पेट स्कैन रिपोर्ट के आधार पर बेहतर ढंग से इलाज कर सकते हैं। स्कैन होने के बाद मरीज के मेटाबोलिज्म में हो रहे बदलाव का पता चलता है। स्कैन यह बता देता है कि हमारे ऑर्गन के साथ टिश्यू किस तरह काम कर रहे हैं। स्कैन से डाॅक्टर उस ऑर्गन में इलाज कर सकते हैं, जिसमें कैंसर पनप रहा हो।

यह मशीन अल्ट्रासाउंड की एडवांस तकनीक है। इसके जरिए शरीर के किसी भी अंग को स्कैन किया जा सकता है। लिम्फोमा, ब्रेन कैंसर, गले का कैंसर, सिर और गर्दन का कैंसर, लंग कैंसर का डिटेक्शन भी इस मशीन से होता है। शुरुआती चरणों में सीटी स्कैन व एमआरआई के मुकाबले पेट स्कैन मशीन बेहतर नतीजे देती है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

और पढ़ें