पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Despite The Lockdown In GPM District, The Shopkeepers Were Selling Goods, The Administration Cut The Challan Of 50 Thousand, 18 People Lost The Battle Of Life Here In 3 Days

लॉकडाउन के बावजूद दुकानदार सामान बेच रहे थे:GPM जिले में प्रशासन ने 50 हजार रुपए का चालान काटा; यहां हफ्तेभर में 1359 नए मरीज मिले, 38 लोगों की मौत भी हुई

मरवाही2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना की रफ्तार कम करने भले ही छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले में लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ाया गया हो लेकिन फिर भी लोग लापरवाह बने हुए हैं। लोगों को जैसा ही मौका मिल रहा है वो वैसे ही बेपरवाह हो जा रहे हैं। ऐसे ही मामला मंगलवार को मरवाही थाना क्षेत्र के सिवनी गांव में सामने आया। जहां प्रशासन की रोक के बावजूद दुकानदार खुलेआम दुकान खोलकर व्यापार कर रहे थे। इस पर तहसीलदार ने कार्रवाई करते हुए 5 दुकानों का 50 हजार का चालान काटा है। जिले में प्रशासन की ये अब तक की बड़ी कार्रवाई है। वहीं जिले में पिछले तीन दिनों में कोरोना से 18 लोगों की मौत हो चुकी है।

तीन दिनों से रोज मिल रहे 160 से ज्यादा मरीज

छत्तीसगढ़ में भले ही कोरोना संक्रमण की रफ्तार कुछ कम जरूरी हुई है। लेकिन जिले में अब भी अब भी 160 से ज्यादा मरीज रोज मिल रहे हैं। यहां पिछले तीन दिनों में ही 521 कोरोना मरीज मिले। यही कारण है कि प्रशासन लगातार सख्ती बरत रहा है। इस बीच मंगलवार को भी प्रशासन को शिकायत मिली की सिवनी गांव में लॉकडाउन के बावजूद लव मोबाइल, सोनू इलेक्ट्रॉनिक, शालिनी ऑटो पार्ट्स, शर्मा ट्रेडर्स, केशरवानी वस्त्रालय व्यापार कर रहे हैं। जिसके बाद प्रशासन ने इन दुकानों का 10-10 हजार का चालान काटा है और अपील की है कि कोरोना गाइडलाइन का पालन करें।

कुछ छूट के साथ बढ़ाया गया है लॉकडाउन

कोरोना संक्रमण को रोकने जिले में अब तक 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाया गया है। हालांकि इस बार लॉकडाउन में कुछ राहत दी गई है। जिसके अंतर्गत जरूरी सामानों के लिए दुकानें दोपहर 12 बजे तक खुल सकेंगी। वहीं रेस्टोरेंट से सुबह 10 बजे से रात 8 बजे तक होम डिलीवरी की भी सुविधा दी गई है। इस बीच मंगलवार को ही जिले में कोरोना के 173 मरीज मिले। इतना ही नहीं इससे पहले भी प्रदेश के अलग-अलग इलाकों से कोरोना की भयावह स्थिति के दौरान लोगों की लापरवाही की तस्वीर सामने आ चुकी है।

जिले में अब तक 109 मरीजों की मौत, मंगलवार को 7 लोग जिंदगी की जंग हार गए

पिछले कुछ दिनों मे पूरे प्रदेश में कोरोना के मामले कुछ कम हो रहे हैं। लेकिन जिले में अब भी कोरोना की रफ्तार तेज बनी हुई है। यहां कोरोना की वजह से ही रविवार को 8 मरीजों की मौत हुई। सोमवार को 3 और मंगलवार को 7 लोगों ने दम तोड़ दिया। इसके साथ ही जिले में कोरोना से मौतों का मामला बढ़कर 109 पहुंच गया। इधर मंगलवार को जिले में 173 मरीज मिले हैं। इस प्रकार जिले में अब तक 10615 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। जबकि 8156 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। जिले में अभी एक्टिव मरीजों की संख्या 2350 है।

इधर, परिजनों ने डर कर महिला को खंडहर में छोड़ दिया था

जिले में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़े हैं। इसी वजह से लोग डर भी रहे हैं। इसके पहले मरवाही के ही लोहारी गांव में एक 65 साल की महिला को खंडहर में छोड दिया गया था। संक्रमित होने के बाद महिला के स्वास्थ्य में सुधार होने के चलते 5 दिन बाद ही छुट्‌टी दे दी गई थी और डॉक्टरों ने परिजनों को होम आइसोलेशन में रखकर दवा देने की सलाह दी थी। लेकिन परिजनों ने डर के चलते महिला को दूर खंडहर में छोड़ दिया। बाद में कांस्टेबल सत पूरन जांगड़े ने महिला को खंडहर से ले जाकर वापस घर छोड़ा और परिजनों को समझाया तब जाकर कहीं घर वाले माने।

खबरें और भी हैं...