• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Devotees Will Be Worship Maa Bamleshwari During Navratri In Chhattisgarh; Devotees Will Be Worship Maa Bamleshwari At Dongargarh With Covid 19 Restrictions During Navratri In Chhattisgarh Rajnandgaon

नवरात्रि पर खुलेंगे मां बम्लेश्वरी के द्वार:इस बार दर्शन की अनुमति, पर वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट अनिवार्य, ऐप से कराना होगा रजिस्ट्रेशन; बाजार, मेला, यात्रा पर रोक

राजनांदगांव4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंदिर में दर्शन के लिए 72 घंटे का कोविड-19 टेस्ट रिपोर्ट और वैक्सीनेशन के दोनों डोज का सर्टीफिकेट अनिवार्य है। - Dainik Bhaskar
मंदिर में दर्शन के लिए 72 घंटे का कोविड-19 टेस्ट रिपोर्ट और वैक्सीनेशन के दोनों डोज का सर्टीफिकेट अनिवार्य है।

छत्तीसगढ़ के डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी के दर्शन श्रद्धालु इस नवरात्रि कर सकेंगे। इसके लिए ऐप से रजिस्ट्रेशन कराना होगा। हालांकि, कोरोना की तीसरी संभावित लहर अक्टूबर में होने की आशंका के चलते कुछ प्रतिबंध लगाए गए हैं। मंदिर में दर्शन के लिए 72 घंटे का कोविड-19 टेस्ट रिपोर्ट और वैक्सीनेशन के दोनों डोज का सर्टीफिकेट अनिवार्य है। वहीं बाजार, मेला, झूला और पदयात्रा पर रोक रहेगी। साथ ही इस साल भी डोंगरगढ़ के लिए स्पेशल ट्रेन की अनुमति नहीं दी गई है।

मंदिर दर्शन के लिए लगाए गए प्रतिबंध

  • पदयात्रा, मीनाबाजार, झूले पूरी तरह से बंद रहेंगे। मेला नहीं आयोजित किया जाएगा।
  • परंपरागत रूप से माता की पूजा-अर्चना नहीं की जाएगी, केवल मंदिर में दर्शन की अनुमति होगी।
  • मां बम्लेश्वरी मंदिर के 10 किमी पहले मुरमुंदा, चिचोला और अन्य डोंगरगढ़ आने वाले रास्तों में चेक प्वाइंट बनाए जाएंगे।
  • सभी दर्शनार्थियों को कोविड जांच रिपोर्ट लाना अनिवार्य होगा। कोविड टीका के दोनों डोज लगवाएं हैं, उनको सर्टिफिकेट जांच के बाद ही प्रवेश की अनुमति होगी।
  • मां बम्लेश्वरी मंदिर दर्शन के लिए ऐप तैयार किया जाएगा, जिसमें मंदिर दर्शन के लिए रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा।
  • रेल यात्रियों को रेलवे स्टेशन में कोविड-19 जांच के बाद ही आने की अनुमति होगी।

महाराष्ट्र से आने वाले श्रद्धालुओं के लिए अतिरिक्त सतर्कता के निर्देश
कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है। कोविड-19 से सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए प्रोटोकॉल का पालन करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि पिछले डेढ़ साल से मां बम्लेश्वरी मंदिर में मेला प्रतिबंधित किया गया है। आंशिक छूट के साथ सिर्फ दर्शन करने की अनुमति होगी। पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम चेक प्वाइंट पर तैनात रहेगी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र से सीमा लगी होने और वहां से अधिक दर्शनार्थी आने के कारण सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...