पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गरियाबंद में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई:देर शाम 440 हीरों के साथ रायपुर के 2 तस्कर गिफ्तार; बरामद हीरों की कीमत 50 लाख रुपए

​​​​​​​गरियाबंद11 दिन पहले
पुलिस ने दोनों आरोपियों उज्ज्वल चंद्राकर और शुभास मंडल को हिरासत में ले लिया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है।

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में पुलिस ने सोमवार देर शाम रायपुर के दो हीरा तस्करों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों के पास से 440 हीरे बरामद हुए हैं। इनकी बाजार में कीमत 50 लाख रुपए बताई जा रही है। जिले में यह यह अब तक की हीरा तस्करों पर सबसे बड़ी कार्रवाई है। अभी तक 7 मामलों में 672 हीरे जब्त किए जा चुके हैं। मामला फिंगेश्वर थाना क्षेत्र का है।

पकड़े गए आरोपियों के पास से 440 हीरे बरामद हुए हैं। इनकी बाजार में कीमत करोड़ों रुपए बताई जा रही है।
पकड़े गए आरोपियों के पास से 440 हीरे बरामद हुए हैं। इनकी बाजार में कीमत करोड़ों रुपए बताई जा रही है।

SP भोजराम को सूचना मिली कि दो व्यक्ति सफेद रंग की एक्टिव से हीरे लेकर छुरा-फिंगेश्वर मार्ग होते हुए रायपुर की ओर जा रहे है। इस पर उन्होंने स्थानीय थाने को अलर्ट किया। इसके बाद एक टीम बनाकर नाकाबंदी की गई। बोरिद चैक प्वाइंट पर चेकिंग के दौरान सफेद रंग की एक्टिव आती दिखाई दी। पुलिसकर्मियों ने रुकने का इशारा किया तो वह भागने लगे।

इस पर पुलिस ने घेराबंदी की और दौड़ाकर आरोपियों को पकड़ लिया। तलाशी के दौरान उनके पास 440 हीरे बरामद हुए। इस संबंध में आरोपी कोई भी दस्तावेज पेश नहीं कर पाए। पुलिस ने दोनों आरोपियों रायपुर के टिकरापारा निवासी सुभाष मंडल और मोवा निवासी उज्जवल चंद्राकर को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी हीरे लेकर रायपुर जा रहे थे।

एक माह पहले भी 12 हीरों के साथ पकड़े गए थे दो तस्कर
इससे पहले भी छुरा क्षेत्र में करीब एक माह पहले 31 मार्च को 12 हीरों के साथ दो तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। बरामद हीरों की बाजार में कीमत करीब ढाई लाख रुपए बताई गई थी। दोनों आरोपी हीरे बेचने के लिए ग्राहक की तलाश में थे। उनकी गाड़ी में MP सरकार की ऑन ड्यूटी का पोस्टर चस्पा था। दोनों आरोपी रायपुर निवासी थे और ओडिशा से हीरे ला रहे थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

और पढ़ें